katniLatestमध्यप्रदेश

कटनी के प्रसिद्ध पीरबाबा उर्स में विविध प्रोग्राम, शानदार प्रस्तुतियों ने मन मोहा

कटनी के प्रसिद्ध पीरबाबा उर्स में विविध प्रोग्राम, शानदार प्रस्तुतियों ने मन मोहा

 

कटनी के प्रसिद्ध पीरबाबा उर्स में विविध प्रोग्राम संपन्न हुए। इस अवसर पर हजरत ताज बाबा नागपुर कमेटी के चेयरमैन प्यारे खान,अजमेर शरीफ दरग़ाह के सलमान चिश्ती साहब, पीएम सूफ़ी कान्फ्रेंस के अध्यक्ष चंडीगढ यूनिवर्सिटी के चांसलर राजसभा सांसद सत्यनाम सिंह संधू पीरबाबा उर्स कमेटी के संरक्षक व पूर्व मंत्री संजय पाठक, राज्य सभा सांसद सत्यपाल सिंह, सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा, जबलपुर के मेयर जगत बहादुर अन्नू, कटनी महापौर प्रीति संजीव सूरी,निगम अध्यक्ष मनीष पाठक, राजा भाई नागपुर, सेकेट्री ताज अहमद रजा,आंधप्रदेश से जनाब मो.निजामुद्दीन शाह ताज कादरी निज़ाम बाबा, काजी मुहम्मद वसीम रजा, हाजी नुरुल हक, आरिफ तनवीर, मुनीद भाई, हिप्पी भाई, हाजी आरिफ, इरफान खान रफीक खान सोनू छुटकू भाई महफूज भाई, तौहीफ़ भाई सहित बड़ी संख्या में अन्य प्रदेश के अलावा,अन्य जिलों से भी जायरीनों ने शिरकत की। इस दौरान पीरबाबा उर्स कमेटी कटनी द्वारा सभी विशेष अतिथि गणों का शाल पुष्पहारों के साथ स्मृति देकर उनका इस्तकबाल किया गया।

IMG 20240310 WA1508 1024x763 1

आपको बता दें कि हजरत इत्रशाह दाता पीरबाबा का 98 वाँ सालाना उर्स शानदार व्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुआ। उर्स की महफिले मिलाद के साथ उर्स का आगाज किया गया। पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए देर रात तक लोगो को उर्स स्थल पर रुकने मजबूर कर दिया।

गद्दी नशीन हजरत अल्हाज अशशाह सैय्यद फहीम अशरफ साहब किबला अशरफी उल जिलानी की मौजूदगी रही। उर्स कमेटी के अध्यक्ष तनवीर खान के मार्गदर्शन और कमेटी के सहयोग से आयोजित हुए सात दिवसीय उर्स में पीरबाबा की दरगाह में लाखों की संख्या में जायरीनों का सैलाब उमड़ा।

मेला परिसर में लोग देर रात तक जमे रहे वही कव्वाली के मंच में देश के मशहूर कव्वाल गुलाम वारिस, मशहूर कव्वाल साकिब अली साबरी एवं मशहूर कव्वाल मत्तीन इत्रशाही द्वारा एवं 9 मार्च को मशहूर कव्वाल अनीस साबरी एवं मशहूर कव्वाल जावेद हुसैन द्वारा कव्वाली का शानदार कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया 10 मार्च को दिन में महफ़िल ए समा का कार्यक्रम कव्वाल जावेद हुसैन द्वारा पीर बाबा की शान में एक से बढ़ कर एक नगमे कलाम पेश किए। कव्वालो का सिलसिला भोर तक अनवरत चलता रहा।

Back to top button