Chandrayan

चाइना कम्पनी Vivo को टाटा दिखाएंगी उसकी औकात रातों रात TATA ने कर दी सबसे बड़ी डील

Tata Vivo Deal: जी हां आपने ने सही सुना भारत की ऑटो सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी टाटा का है टेक्नोलॉजी सेक्टर में नंबर वन कंपनी बनने का प्लान जो वो को खरीद कर टेक्नोलॉजी सेक्टर में ला सकती है सबसे बड़ा बदलाव जो विश्वास भरोसे लोगों के दिल में जगह बना चुकी है नाम है टाटा रातों-रात कर डाली सबसे बड़ी डील टाटा समूह लंबे वक्त से भारत के स्मार्टफोन मार्केट में एंट्री की तैयारी में है। यही वजह है कि उसकी तरफ से वीवो इंडिया यूनिट में ज्यादा से ज्यादा हिस्सेदारी खरीदने का प्लान है। इससे पहले टाटा की ओर से ऐपल आईफोन प्रोडक्शन यूनिट को खरीदने का प्लान था। कहां जा रहा है कि टेक्नोलॉजी सेक्टर में टाटा का नया अवतार देखने को मिल सकता है ।

 Tata Vivo deal: भारत के इतिहास की सबसे बड़ी डील टेक्नोलॉजी सेक्टर में टाटा का है पूरा प्लान वीवो कंपनी को अपने कब्जे में करने का टाटा समूह जल्द ही चाइनीज ब्रांड वीवो की इंडिया यूनिट को खरीद सकती है। अगर डील फाइनल हो जाती है, तो वीवो टाटा समूह की कंपनी हो जाएगी। दरअसल टाटा समूह की ओर से चाइनीज स्मार्टफोन ब्रांड वीवो की इंडिया यूनिट BBK ग्रुप में करीब 51 फीसद हिस्सेदारी खरीद सकती है। मतलब कंपनी पर पूरी तरह से टाटा का कब्जा हो जाएगा। इस मामले में टाटा और वीवो कंपनी के बीच बातचीत चल रही है।

READ MORE : http://Identify Multibagger Stock : कैसे करें multibagger stock की पहचान, ये एक फ़ॉर्मूला देगा पक्का 100 गुना रिटर्न

 Tata Vivo deal.वीवो ने बेची प्रोडक्शन यूनिट
पूरे टेक्नोलॉजी सेक्टर में क्या बातें हवा की तरह फैल चुकी है कि टाटा वीवो को खरीदने जा रहा है हाल ही में माइक्रोमैक्स ने वीवो की नोएडा फैक्ट्री को खरीदा है। इसे माइक्रोमैक्स की भगवती प्रोडक्ट्स मैन्युफैक्चिरिंग ने खरीदा है। यह कंपनी जल्द ही भारत में वीवो के स्मार्टफोन का निर्माण करेगी। टाटा का प्लान वीवो इंडिया कंपनी में सबसे ज्यादा हिस्सेदारी खरीदने की है, जिससे टेक सेक्टर में टाटा की उपस्थिति को मजबूत किया जा सके। टाटा की चेन्नई के पास iPhone प्रोडक्शन यूनिट में हिस्सेदारी खरीदने के लिए पेगाट्रॉन के साथ भी बातचीत चल रही है।

Back to top button