Latestमध्यप्रदेश

MP में महिला एसडीएम की संदिग्ध मौत, कलेक्टर सहित सरकारी अमला पहुंचा अस्पताल

MP में महिला एसडीएम SDM की संदिग्ध मौत, कलेक्टर सहित सरकारी अमला पहुंचा अस्पताल

MP News मध्यप्रदेश में एक महिला एसडीएम SDM की संदिग्ध मौत की खबर से सब आवाक हैं। मामला डिंडोरी जिले के शहपुरा का है। एसडीएम की मृत्यु की खबर के बाद जिला प्रशासन के आला अधिकारी अस्पताल पहुंच गए। कलेक्टर भी मौके पर पहुंचे हैं फिलहाल मौत के कारणों का पता लगाने पुलिस जुटी है।

IMG 20240128 211224

डिंडोरी जिले के शहपुरा में पदस्थ एसडीएम निशा नापित की आज संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हो गई। बताया गया कि एसडीएम को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी पर जब तक वह अस्पताल पहुंच पाती तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। फिलहाल जिला कलेक्टर एवं प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं एवं जांच के निर्देश दिए गए हैं।

मामले की गंभीरता को देखते हुए जहां एक ओर एसडीएम बंगले को सील कर दिया गया है, वहीं बालाघाट से एफएसएल टीम जांच के लिए बुलाई गई है।

मीडिया से चर्चा के दौरान एसडीएम के पति मनीष शर्मा ने बताया कि उनकी तबियत शनिवार की रात से ही खराब थी। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है। जानकारी लगते ही बडी संख्या में लोगों का अस्पताल में जमावडा भी लग गया था। बंगला सील करने के पहले पुलिस की मौजूदगी में एसडीएम के पति द्वारा आवश्यक सामान निकाले गए। एसडीएम की मौत के बाद उनके पति सहित बंगले के कर्मचारियों से भी पुलिस द्वारा पूछताछ की गई है।

बहरहाल जब इस घटना की जानकारी परिजनों को लगी तो वह भी अस्पताल पहुंच गए हैं और रो-रो कर उनका बुरा हाल है। इसे लेकर तरह तरह की चर्चाएं हैं।

निशा नापित छत्तीसगढ अंबिकापुर के चौपडा कालोनी निवासी थीं। उनके पिता ज्ञानचंद नापित का भी निधन हो चुका है। 22 दिसंबर 1973 उनका जन्मदिवस था। लगभग 51 वर्षीय निशा नापित ने 15 मार्च 2003 को नायब तहसीलदार के पद पर सेवाएं शुरू की थीं। पदोन्नति होकर पहले वे तहसीलदार बनी और उसके बाद वे डिप्टी कलेक्टर के पद पर पदस्थ हुई थीं।

Back to top button