katniLatest

अदाणी फाउन्डेशन द्वारा संचालित ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर का स्कूल शिक्षा विभाग एवं जिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग के अधिकारियों ने किया निरीक्षण

अदाणी फाउन्डेशन द्वारा संचालित ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर का स्कूल शिक्षा विभाग एवं जिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग के अधिकारियों ने किया निरीक्षण

कटनी / कैमोर। अदाणी फाउन्डेशन द्वारा संचालित ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर का स्कूल शिक्षा विभाग एवं जिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग के अधिकारियों ने  निरीक्षण किया। अदाणी फाउन्डेशन, कैमोर व अमेहटा सीमेंट वर्क्स के तत्वावधान में नाद गुंजन कला परिषद के सहयोग से द्रोणा परियोजना के तहत जिले का सबसे बड़ा ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर कैमोर व अमेहटा मे आयोजित किया जा रहा है।

अडानी सीमेंट के चीफ मैन्युफैक्चरिंग ऑफिसर (सेन्ट्रल) श्री वैभव दीक्षित के मार्गदर्शन एवं अदाणी फाउंडेशन की सीएसआर हेड श्रीमती ऐनेट एफ विश्वास के नेतृत्व में आयोजित इस खेल प्रशिक्षण शिविर में 250 से अधिक बच्चों ने अपना पंजीयन कराया है। कटनी जिले के इस सबसे बड़े शिविर का निरीक्षण करने पहुंचे जिला शिक्षा अधिकारी श्री पी. पी. सिंह ने शिविर का औपचारिक उद्घाटन जिला खेल अधिकारी श्री विजय भार, स्कूल शिक्षा विभाग के क्रीड़ाधिकारी श्री अनूप डांगीवाल, एसीसी हेड माइनिंग श्री मनोज शंकर सिंह, डीएवी एसीसी पब्लिक स्कूल कैमोर के प्राचार्य श्री जी.के. उद्गाता, खेल विभाग की ब्लॉक कोर्डिनेटर श्रीमती उमा व एसीसी स्कूल के शिक्षको की उपस्थिती मे किया।

कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों के स्वागत पश्चात दीप प्रज्जवलित कर राष्ट्रगान के साथ किया गया। साथ ही बच्चों ने राष्ट्रीय स्तर के कोचेस की अगुवाई में सेल्फ डिफेंस का डेमो, रिले रेस और हर्डल रेस को अतिथियों के सामने प्रस्तुत किया।

मंच का संचालन अदाणी फाउंडेशन की सीएसआर हेड श्रीमती ऐनट एफ विश्वास ने करते हुए अदाणी फाउंडेशन की ओर से शिक्षा, स्वास्थ्य, कौशल प्रशिक्षण और खेल की दिशा में किए जा रहे प्रयासों की विस्तृत जानकारी दी। साथ ही खेल प्रशिक्षण शिविर और इसके माध्यम से खेल प्रतिभाओं के प्रोत्साहन में अदाणी फाउंडेशन द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर नाद गुंजन कला परिषद के अध्यक्ष श्री मोहनदास नागवानी ने विस्तार से बताया।

कार्यक्रम के संबोधन में जिला खेल अधिकारी श्री विजय भार ने कहा, “यह शिविर बच्चों के खेल कौशल को निखारने का एक उत्कृष्ट अवसर है।” स्कूल शिक्षा विभाग के क्रीड़ा अधिकारी श्री अनूप डांगीवाल ने इस पहल की सराहना करते हुए कहा, “यह शिविर बच्चों में खेलों के प्रति रुचि और प्रतिस्पर्धा की भावना को प्रोत्साहित करेगा।”

जिला शिक्षा आधिकारी श्री पी पी सिंह ने शिविर की उत्कृष्ट व्यवस्थाओं की सराहना की और बच्चों के जोश और उत्साह को देखकर काफी प्रसन्नता व्यक्त की। उन्हों ने प्रशिक्षण कार्यक्रम की सराहना की और प्रतिभागियों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा, “ऐसे आयोजन बच्चों के समग्र विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और उन्हें अपनी प्रतिभा को निखारने का अवसर प्रदान करते हैं। स्कूल शिक्षा विभाग सभी खेल प्रतिभाओं को आगे ले जाने के लिए अदाणी फाउंडेशन के साथ कंधे से कंधा मिला कर कार्य करने को कटिबद्ध है।”

हेड माइनिंग श्री मनोज शंकर सिंह ने अपने उद्बोधन में अदाणी फाउंडेशन के साथ मिलकर ग्रामीण बच्चों को अवसर और सहयोग प्रदान करने के लिए अदाणी मैनेजमेंट और अदाणी परिवार के तरफ से जिला से आए सभी शासकीय अधिकारियों को बहुत साधुवाद दिया।

सभी अतिथियों ने कार्यक्रम समापन के बाद एसीसी माध्यमिक विद्यालय परिसर का अवलोकन किया जहां पर हैरिटेज गैलरी में रखी 100 वर्षों की विरासत से जुड़ी पुरानी चीजे सभी के आकर्षण का केंद्र बनी। जिला शिक्षा अधिकारी के साथ सभी ने अमेहटा ग्राउंड पर जाकर वहां के ग्राउंड का अवलोकन कर प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए सहयोग प्रदान करने की मंशा जाहिर की। साथ ही फाउंडेशन के ऐसे सभी प्रयास जो ग्रामीण बच्चों के उत्थान के लिए किए जा रहे है उसकी सराहना की।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु सी.एम.ओ. (सेंट्रल) श्री वैभव दीक्षित के मार्गदर्शन में प्लांट हैड अमेहटा श्री अतुल दत्ता, क्लस्टर एच.आर. हैड (सेंट्रल) श्री एच.पी. सिंह, अदाणी फाउंडेशन से श्रीमती ऐनेट एफ विश्वास, श्री पंकज द्विवेदी, श्री अमित सोनी, श्री विशाल पटेल व नाद गुंजन कला परिषद की टीम की विशेष भूमिका रही।

Back to top button