Business

निवेशकों के लिए खास खबर ,जाने क्या होता है Mutual Funds में NAV और इसके फायदे

निवेशकों के लिए खास खबर ,जाने क्या होता है Mutual Funds में NAV और इसके फायदे

निवेशकों के लिए खास खबर ,जाने क्या होता है Mutual Funds में NAV और इसके फायदे बदलते समय में हमे भी अपने आप को अपडेट करना आजकल बेहद जरुरी हो गया है क्योकि वर्तमान समय में आवश्यकताए को पूरा करना एक बदलते हुए इंसान के लिए बेहद ही महत्वपूर्ण हो जाता है , आज का समय केवल और केवल बदलाव पर ही टिका हुआ है इसी के चलते आपको लिए कुछ अच्छी बातो को ले कर आए है जैसे की म्यूचुअल फंड से जुडी स्कीम प्रति यूनिट एनएवी किसी स्कीम की प्रतिभूतियों के बाजार मूल्य को किसी निश्चित तारीख पर योजना एवं अन्य जानकारिया प्रदान कर रहे है इसके लिए खबर में अंत तक बने रहे .

जाने क्या होता है Mutual Funds

जानकरी के लिए बता दे की आखिर यह म्यूचल फंड होता है क्या तो आपको बता दे यह एक में निवेश योग्य प्लेटफार्म होता है जो की पैसे को संभावित रूप से बढ़ाने का एक शानदार तरीका हो सकता है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि आपके निवेश का मूल्य कैसे निर्धारित होता है? यह नेट एसेट वैल्यू या एनएवी नामक चीज़ के माध्यम से होता है। इस लेख में हम म्यूचुअल फंड NAV के बारे में जानेंगे और समझेंगे कि यह कब और कैसे अपडेट होता है।

निवेशकों के लिए खास खबर ,जाने क्या होता है Mutual Funds में NAV और इसके फायदे

NAV क्या होता है

इसके बाद आप सभी के मन में यह प्रश्न उठ ढह होन्ग की नेट एसेट वैल्यू (एनएवी) म्यूचुअल फंड की धड़कन की तरह है। तो यह किस प्रकार से कार्य करती है तो आपकी जानकरी के लिए बता दे की यह फंड द्वारा रखी गई सभी प्रतिभूतियों के प्रति यूनिट बाजार मूल्य का प्रतिनिधित्व करता है। सीधे शब्दों में कहें तो यह आपको बताता है कि किसी निश्चित समय में म्यूचुअल फंड की एक यूनिट का मूल्य क्या है। एनएवी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह फंड के समग्र प्रदर्शन को दर्शाता है।

यह भी पढ़े :Oneplus की हेकड़ी निकल देगा ये नया Nothing Phone 2(a) लॉन्च होते ही मिल रहे नए बदलाव, जाने फीचर और कीमत

आखिर में एनएवी घोषित की जाती है

शेयरों के उलट, जहां कीमत शेयर बाजार द्वारा संचालित होती है और मिनट-दर-मिनट बदलती रहती है, सेबी म्यूचुअल फंड विनियमों के मुताबिक, बाजार बंद होने के बाद हर ट्रेडिंग दिन के आखिर में म्यूचुअल फंड योजनाओं की एनएवी घोषित की जाती है। सभी स्कीम के तहत म्यूचुअल फंड योजनाओं की यूनिट्स(लिक्विड और ओवरनाइट फंड को छोड़कर) सिर्फ संभावित एनएवी पर अलॉट की जाती हैं। म्यूचुअल फंड कट-ऑफ समय के बाद भी आवेदन स्वीकार कर सकता है, लेकिन आपको अगले कारोबारी दिन का एनएवी मिलेगा।

निवेशकों के लिए खास खबर ,जाने क्या होता है Mutual Funds में NAV और इसके फायदे

आखिर क्यों है निवेशकों के लिए NAV महत्वपूर्ण

  • नेट एसेट वैल्यू (एनएवी) एक निश्चित अवधि में धन प्रभाव को दर्शाता है। जैसे अगर किसी फंड का NAV 1 साल0 में 100 रुपये से बढ़कर 118 रुपये हो गया है, तो इसे एक वर्ष में निवेश पर 18% रिटर्न के रूप में समझा जा सकता है।
  •  शुद्ध संपत्ति मूल्य तुलना की अनुमति देता है। हालांकि आप सीधे NAV पर तुलना नहीं करते हैं, आप NAV पर उत्पन्न रिटर्न से तुलना कर सकते हैं। इससे एक कैटेगरी के भीतर और विभिन्न श्रेणियों में फंड के चयन में मदद मिलती है।
  •  नेट एसेट वैल्यू,फंड द्वारा अपने निवेशकों को कम्यूनिकेशन का एक महत्वपूर्ण साधन है कि फंड कैसा प्रदर्शन कर रहा है क्योंकि पोर्टफोलियो का खुलासा केवल मासिक आधार पर होता है।
  •  एनएवी निवेशकों के लिए एडवांस वॉर्निंग सिस्टम के रूप में काम कर सकता है। जैसे अगर किसी इक्विटी फंड के एनएवी में बढ़ोतरी या एनएवी में गिरावट सूचकांक के साथ तालमेल से बाहर है, तो निवेशकों के लिए करीब से देखने के लिए कुछ तो है।
  •  नेट एसेट वैल्यू (एनएवी) की गणना प्रतिदिन की जाती है और यह निवेशकों को उनके फंड के प्रदर्शन का आकलन करने में सहायता करती है।

यह भी पढ़े :गजब के फीचर्स के साथ मार्केट में आ गयी Mahindra XUV500 की किफायती कार

Back to top button