Latest

Santiago Martin Lottery King: लॉटरी किंग ने खरीदे सबसे ज्‍यादा इलेक्‍टोरल बॉन्‍ड, देखें सेंटियागो मार्टिन के मजदूर से मजबूत बनने का सफर

Santiago Martin Lottery King: लॉटरी किंग ने खरीदे सबसे ज्‍यादा इलेक्‍टोरल बॉन्‍ड, देखें सेंटियागो मार्टिन के मजदूर से मजबूत बनने का सफर

Santiago Martin Lottery King: लॉटरी किंग ने खरीदे सबसे ज्‍यादा इलेक्‍टोरल बॉन्‍ड, देखें सेंटियागो मार्टिन के मजदूर से मजबूत बनने का सफर, इलेक्टोरल बॉन्ड (Electoral Bond) किसने कितने रुपये के खरीदे, इसका सारा डेटा चुनाव आयोग ने अपनी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है. इलेक्टोरल बॉन्ड खरीदने वालों की लिस्ट में 213 लोग ऐसे हैं जिन्होंने 10 करोड़ रुपये से ज्यादा के इलेक्टोरल बॉन्ड खरीदे हैं. चुनाव आयोग की तरफ से डेटा जारी होने के बाद एक नाम सामने आया है, जिसे देखकर हर कोई चौंक गया है. दरअसल, खुलासा हुआ है कि सबसे ज्यादा रुपये के इलेक्टोरल बॉन्ड लॉटरी किंग सेंटियागो मार्टिन (Santiago Martin) ने खरीदे हैं. जो कभी मजदूर हुआ करता था. आइए जानते हैं कि लॉटरी किंग सेंटियागो मार्टिन कौन हैं?

 

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद एसबीआई ने चुनाव आयोग को इलेक्टोरल बॉन्ड का डेटा सौंपा था. उसके बाद गुरुवार को चुनाव आयोग ने ये सारा डेटा अपनी वेबसाइट पर अपलोड किया. इससे खुलासा हुआ है कि सबसे ज्यादा 1368 करोड़ रुपये के इलेक्टोरल बॉन्ड फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने खरीदे हैं. इसको लॉटरी किंग कहे जाने वाले सेंटियागो मार्टिन चलाते हैं.

 

सेंटियागो मार्टिन चैरिटेबल ट्रस्ट के मुताबिक, सेंटियागो मार्टिन कभी एक मजदूर हुआ करते थे. वह म्यांमार के यंगून में मजदूरी करता था. हालांकि, बाद में सेंटियागो मार्टिन भारत लौट आया और नए सिरे से अपना करियर स्टार्ट किया. आइए जानते हैं कि कैसे सेंटियागो मार्टिन कैसे मजदूर से इतना अमीर बन गया.

 

जानकारी के मुताबिक, 1988 में सेंटियागो मार्टिन म्यांमार से भारत लौट आया था. फिर तमिलनाडु में सेंटियागो मार्टिन ने लॉटरी का बिजनेस शुरू किया. इसके बाद सेंटियागो मार्टिन ने अपना लॉटरी का बिजनेस कर्नाटक और केरल तक बढ़ा दिया. ये यहीं तक नहीं रुका. सेंटियागो मार्टिन का लॉटरी का बिजनेस नॉर्थ-ईस्ट इंडिया तक भी फैल गया

Back to top button