Latest

शास्त्र के साथ शस्‍त्र की शिक्षा के लिए बालक बालिका वैदिक विद्यालय खोलने की तैयारी, इस गुरुकुल में 4 वेदों के अनुसार होगी शिक्षा प्रणाली 

शास्त्र के साथ शस्‍त्र की शिक्षा के लिए बालक बालिका वैदिक विद्यालय खोलने की तैयारी, इस गुरुकुल में 4 वेदों के अनुसार होगी शिक्षा प्रणाली 

उज्जैन।  शास्त्र के साथ शस्‍त्र की शिक्षा के लिए बालक बालिका वैदिक विद्यालय खोलने की तैयारी, इस गुरुकुल में 4 वेदों के अनुसार  शिक्षा प्रणाली  होगी।  उज्‍जैन में बालिकाओं को शस्त्र के साथ शास्‍त्र की शिक्षा दी जाएगी। इसके लिए दो बालक और बालिकाओं के लिए दो अलग-अलग गुरुकुल खोले जाएंगे। यहां वेद के अनुसार पढ़ाई भी करवाई जाएगी।

कैलाश मठ में दिव्य श्री शिव महापुराण कथा के लिए पहुंची प्रणवाक्षर धाम पीठ (श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा) उज्जैन की महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा गिरि (साध्वी वर्षा) ने बताया कि उज्जैन में बालिका व खगड़िया में बालक गुरुकुल खोला जाएगा, ताकि युवा पीढ़ी शास्त्र व शस्त्र का वेद अनुसार ज्ञान प्राप्त कर सके। कैलाश मठ स्थित गुरुकुल के गुरुओं से इसके लिए सहयोग भी लिया जाएगा।

कैलाश मठ के छात्र को पीएम मोदी ने किया था पुरस्‍कृत

बता दे कि सांसद संस्कृत प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करते वाले कैलाश मठ स्थित गुरुकुल की कक्षा नौवीं के 12 वर्षीय छात्र नवरत्न को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुरस्कृत किया था। इसके बाद से ही इस मठ के आचार्य व शिष्य उत्साहित हैं। इससे प्रेरणा लेकर अब उज्जैन व बिहार के खगड़िया में गुरुकुल खोलने की तैयारी है। इसी मठ में अन्नपूर्णा गिरि ने महामंडलेश्वर स्वामी आशुतोषनंद गिरि से तीन जुलाई 2023 को शिक्षा-दीक्षा प्राप्त की थी।

Back to top button