Latest

Lok Sabha Chunav 2024: थर्ड जेंडर को लेकर चर्चा में कटनी, अब आगे क्या

Lok Sabha Chunav 2024: थर्ड जेंडर को लेकर चर्चा में कटनी, अब आगे क्या

Lok Sabha Chunav 2024: थर्ड जेंडर को लेकर चर्चा में कटनी जिले में महिला व पुरुष मतदाता के साथ ही थर्ड जेंडर भी मतदान में अपनी भूमिका निभाएंगे। जिले में दो लोकसभा क्षेत्र में सांसद का चुनाव करने के लिए मतदान होना है।

इसमें बड़वारा विधानसभा क्षेत्र के मतदाता शहडोल संसदीय क्षेत्र के लिए मतदान करेंगे, जबकि खजुराहो लोकसभा क्षेत्र से सांसद का चुनाव करने के लिए विजयराघवगढ़, मुड़वारा और बहोरीबंद विधानसभा क्षेत्र के मतदाता अपने मत का उपयोग करेंगे। यहां कटनी नगर निगम के चुनाव में किन्नर कमला मौसी ने महापौर पद का चुनाव लड़ा था और वे विजयी भी हुई थीं, हालांकि उनका कार्यकाल पूरा नहीं हो सका।

मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन में इनकी संख्या घटकर 25 हो गई है

 

जिले में नौ लाख 90 हजार 181 मतदाता दर्ज हैं, जिसमें पांच लाख छह हजार 331 पुरुष मतदाता अपने मत का उपयोग शहडोल व खजुराहो संसदीय क्षेत्र के सांसद के चुनाव के लिए करेंगे तो वहीं जिले की चार लाख 83 हजार 825 महिला मतदाता भी अपने मतदान का प्रयोग करेंगी। इसके अलावा थर्ड जेंडर भी चुनाव में वोटिंग करेंगे। जिले की चारों विधानसभाओं में इनकी संख्या 25 है। पूर्व में यह संख्या 26 थी। मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन में इनकी संख्या घटकर 25 हो गई है।

बहोरीबंद में सर्वाधिक संख्या

 

महिला व पुरुष मतदाता के साथ जिले की चारों विधानसभाओं में मतदाता के रूप में दर्ज थर्ड जेंडर में सर्वाधिक संख्या बहोरीबंद विधानसभा क्षेत्र में है। बहोरीबंद विधानसभा क्षेत्र में 12 मतदाता थर्ड जेंडर के दर्ज हैं। इसके अलावा मुड़वारा विधानसभा में आठ और विजयराघवगढ़ क्षेत्र में चार थर्ड जेंडर मतदाता खजुराहो लोकसभा के प्रत्याशियों के लिए मतदान करेंगे। जिले की बड़वारा विधानसभा शहडोल लोकसभा क्षेत्र का हिस्सा है और यहां पर थर्ड जेंडर के रूप में एकमात्र मतदाता सूची में दर्ज है। पूर्व में यहां दो मतदाता थे लेकिन आठ फरवरी को हुए अंतिम प्रकाशन के बाद बड़वारा में इनकी संख्या सिर्फ एक हो गई है।

 

थर्ड जेंडर को लेकर चर्चा में रहा है कटनी

 

महिला व पुरुष मतदाता के साथ ही अन्य मतदाता (थर्ड जेंडर) भी मतदाता सूची में दर्ज हैं। कटनी जिला थर्ड जेंडर को लेकर पूर्व से ही चर्चा में रहा है। वहीं पंचायत चुनाव में भी जिले के रीठी जनपद पंचायत क्षेत्र से किन्नर माला मौसी जिला पंचायत सदस्य के रूप में विजयी हुई थीं। उन्होंने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए भी दावेदारी की थी लेकिन अंतिम समय में दूसरे का नाम आगे किया गया।

 

Back to top button