katniLatest

शासकीय कन्या महाविद्यालय कटनी में आयोजित हुआ लर्निंग लाइसेंस कैम्प

कटनी। शासकीय कन्या महाविद्यालय कटनी में छात्राओं के लिए एक विशेष लर्निंग लाइसेंस कैंप का सफल आयोजन किया गया। यह कैम्प महाविद्यालय की प्राचार्य डॉक्टर चित्रा प्रभात के कुशल मार्गदर्शन में संपन्न हुआ। कैम्प का संचालन राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी डॉ रीना मिश्रा, स्पोर्ट्स ऑफिसर श्री नागेंद्र यादव एवं एनसीसी केयरटेकर श्रीमती नेहा चौधरी ने किया ।

इस अवसर पर अतिरिक्त क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी कटनी श्री विमलेश गुप्ता (आरटीओ) मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। उन्होंने छात्राओं को लर्निंग लाइसेंस की उपयोगिता और महत्व के बारे में विस्तार से जानकारी दी। साथ ही, लाइसेंस प्राप्त करने की प्रक्रिया के बारे में भी बताया।

कैम्प में श्री जितेंद्र तिवारी द्वारा डिजिटल माध्यम से लाइसेंस बनवाने की पूरी प्रक्रिया का प्रदर्शन किया गया। उन्होंने इस प्रक्रिया में आने वाली समस्याओं का समाधान भी प्रस्तुत किया। छात्राओं के मन में लाइसेंस को लेकर जो भी प्रश्न थे, उनका संतोषजनक उत्तर देकर निराकरण किया गया।

इस कैंप में लगभग 100 छात्राओं ने लर्निंग लाइसेंस बनवाए। आरटीओ कार्यालय में पदस्थ श्री दीपक तिवारी, श्री सचिन विश्वकर्मा, श्री राजभर कल सहित समस्त टीम उपस्थित रही।

महाविद्यालय परिवार से वरिष्ठ प्राध्यापक डॉक्टर साधना जैन, डॉ रश्मि चतुर्वेदी, डॉ विमला मिंज, डॉक्टर किरण खरादी, श्रीमती वंदना मिश्रा, श्रीमती सुनीता श्रीवास्तव, डॉक्टर प्रज्ञा अग्रवाल, डॉक्टर प्रतिमा सिंह, डॉक्टर फूलचंद कोरी, डॉक्टर अशोक शर्मा, श्री भीम बर्मन, डॉ के. जी. सिंह, श्रीमती मैत्रयी शुक्ला, श्रीमती प्रियंका सोनी, श्रीमती देववती चक्रवर्ती, सुश्री आरती वर्मा, सुषमा वर्मा, श्रीमती श्रद्धा वर्मा सहित अन्य शिक्षकगण एवं समस्त छात्राएं उपस्थित रहीं।

यह कैम्प छात्राओं के लिए अत्यंत लाभदायक रहा। इससे उन्हें न केवल लर्निंग लाइसेंस प्राप्त करने का अवसर मिला, बल्कि वाहन चलाने से संबंधित नियमों और सुरक्षा उपायों के बारे में भी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई। महाविद्यालय प्रशासन ने इस प्रकार के उपयोगी कार्यक्रमों के आयोजन के लिए आरटीओ कार्यालय का आभार व्यक्त किया और भविष्य में भी इस तरह के सहयोग की अपेक्षा जताई।

इस कैम्प के माध्यम से महाविद्यालय ने छात्राओं के सर्वांगीण विकास और उनके कौशल वृद्धि के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को एक बार फिर दोहराया है। आशा है कि यह पहल छात्राओं को अधिक जिम्मेदार और सुरक्षित वाहन चालक बनने में मदद करेगी।
इसके पश्चात महाविद्यालय परिसर में पर्यावरण संरक्षण को दृष्टिगत रखते हुए वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें श्री विमलेश गुप्ता एवं प्राचार्य डॉक्टर चित्रा प्रभात एवं समस्त स्टाफ द्वारा परिसर में पौधारोपण कार्यक्रम किया गया

Back to top button