katniLatest

Katni Railway Station Crime: मोबाइल लेकर भाग रहे चोर का पीछा करने में अटेंडर का ट्रेन से पैर कटा

Katni Railway Station Crime: मोबाइल लेकर भाग रहे चोर का पीछा करने में अटेंडर का ट्रेन से पैर कट गया। कटनी रेलवे स्टेशन के आउटरों पर होने वाले अपराधों पर जीआरपी लगाम नहीं लगा पा रही है।

आए दिन चलती गाड़ी से मोबाइल लूटने की घटनाएं आम हो गई हैं। सोमवार को स्पेशल डीजी रेल के जीआरपी थाने के निरीक्षण से पहले एक कोच अटेंडर का मोबाइल लेकर बदमाश भागा। उसका पीछा करने में अटेंडर ट्रेन की चपेट में आ गया और उसका एक पैर कट गया जानकारी के अनुसार राजकुमार चौहान(40) निवासी नयागांव थाना एनकेजे कटनी ट्रेनों के एसी कोच में अटेंडर का काम करते हैं। उनकी ड्यूटी सोमनाथ एक्सप्रेस में लगी थी।

जबलपुर जाने के लिए वे कटनी जंक्शन से रीवा-जबलपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस में सवार हुए। ट्रेन जंक्शन के आगे बढ़ी तो राजकुमार गेट के पास खड़े होकर मोबाइल से बात कर रहे थे। तभी बदमाश मोबाइल लूटने के लिए उनपर झपट पड़ा। इस झटके से राजकुमार कटनी साउथ स्टेशन के समीप ट्रेन से नीचे गिरे तो पांव पहिए के नीचे आने से पंजे का हिस्सा कट गया। यात्रियों के शोर मचाने पर स्थानीय लोग दौडकऱ आए और रेलवे पुलिस को सूचना दी।

राजकुमार परिवार के इकलौते कमाने वाले सदस्य

राजकुमार परिवार के इकलौते कमाने वाले सदस्य हैं। इस घटना ने उन्हें अपाहिज कर दिया। इससे परेशान उन्होंने कहा कि अब भविष्य की चिंता सता रही है। घटना के संबंध में उन्होंने बताया कि वे ट्रेन से अक्सर आते-जाते थे, इसलिए इस तरह की घटना की आशंका नहीं थी। निश्चिंत होकर बात कर रहे थे, तभी एक व्यक्ति ने बड़ी तेजी से उनके हाथ को पकडकऱ मोबाइल छीनने लगा। वे कुछ समझ पाते कि उससे पहले ही धक्के से धड़ाम से नीचे आ गए, उसके बाद उन्हें कुछ नहीं पता।

लुटेरे हत्या तक कर चुके

बताया गया है कि कटनी जंक्शन में पांच रेलवे स्टेशन बनाए गए हैं। सभी दिशा के अलग स्टेशन हैं, जिनके आउटर अपराधियों के हवाले हैं। जो चोरी, लूट और हमला तक करते हैं। पांच माह पूर्व एक यात्री का मोबाइल इसी तरह लूट लिया था। जब यात्री ने उनका पीछा किया तो हत्या कर दी थी। इस गंभीर घटना के बाद भी रेल पुलिस और जिला पुलिस बल ने सुरक्षा के इंतजाम नहीं बढ़ाए।

Related Articles

Back to top button