jabalpur

Jabalpur To Ayodhya Aastha Special Train: आस्था स्पेशल ट्रेन के स्लीपर कोच में मिलेगा बेडरोल और खाना

Jabalpur To Ayodhya Aastha Special Train: आस्था स्पेशल ट्रेन के स्लीपर कोच में  बेडरोल और खाना मिलेगा।  पहले तीन स्पेशल ट्रेनों के चलाने की तैयारी है बाद में पश्चिम मध्य रेलवे जोन के जबलपुर, भोपाल और कोटा मंडल से ट्रेन चलाई जाएंगी। 22 जनवरी को अयोध्या में भगवान रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद यात्रियों के लिए जबलपुर समेत देशभर से आस्था स्पेशल ट्रेन चलाए जाने की तैयारी जोरों पर है।

जबलपुर रेल मंडल ने प्रारंभिक तौर पर जबलपुर और रीवा से स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय किया है। इसके बाद भोपाल के रानी कमलापति स्टेशन से स्पेशल ट्रेन चलाने की योजना है। इन ट्रेनों में एसी कोच के साथ स्लीपर कोच में सफर करने वाले यात्रियों की सुविधा पर भी ध्यान दिया जा रहा है। स्लीपर कोच में बेडरोल और खाना दिए जाने की तैयारी की जा रही है।

22 जनवरी के बाद अयोध्या तक चलाए जाने की योजना

इतना ही नहीं यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा के लिए ट्रेन के हर कोच में एक टीटीई भी तैनात होगा। देशभर से एक हजार से ज्यादा ट्रेनों को 22 जनवरी के बाद अयोध्या तक चलाए जाने की योजना है। पहले तीन स्पेशल ट्रेनों के चलाने की तैयारी है बाद में पश्चिम मध्य रेलवे जोन के जबलपुर, भोपाल और कोटा मंडल से ट्रेन चलायी जाएंगी। रेलवे सूत्रों की मानें तो स्पेशल ट्रेन का किराया अधिक होता है, लेकिन रेलवे इन ट्रेनों के किराये को कम कर यात्रियों को ज्यादा सुविधा देने के कार्य में जुटा है।

कोच के अंदर दिखेंगी श्रीराम मंदिर की मनमोहक तस्वीरें

रेलवे बोर्ड ने अयोध्या तक जाने और आने वाली ट्रेनों के लिए एक अलग से गाइडलाइन तैयार की है। इसमें हर जोन को संबंधित राज्य सरकार के साथ समन्वय बनाते हुए इन ट्रेनों को संचालन करना है। स्पेशल ट्रेन के हर कोच पर अयोध्या और वहां के मंदिर की तस्वीर को उकेरा जाएगा। इन ट्रेनों के यात्रियों का हर प्रमुख रेलवे स्टेशन पर स्वागत होगा। स्वागत की जिम्मेदारी रेलवे की होगी।

दो से तीन ट्रेनों को चलाने का प्रस्ताव

जबलपुर रेल मंडल में लगभग 100 रेलवे स्टेशन हैं, जिसमें बड़े स्टेशनों की संख्या लगभग 20 है। इन स्टेशनों पर 24 घंटे में लगभग 50 हजार से ज्यादा यात्री ट्रेन में चढ़ते और उतरते हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने मंडल से संभावित तौर पर दो से तीन ट्रेनों को चलाने की तैयारी की है। इसमें जबलपुर और रीवा रेलवे स्टेशन से प्राथमिक तौर पर ट्रेन चलाने के लिए प्रस्तावित किया है। वहीं भोपाल के रानीकमलापति और भोपाल रेलवे स्टेशन से भी ट्रेन चल सकती है।

यात्रियों की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखेगा रेलवे

हर वर्ग को ध्यान में रखकर रेलवे एसी, स्लीपर और जनरल कोच के साथ ट्रेन चला सकता है।
स्लीपर कोच के यात्रियों को भी सफर के दौरान बेडरोल मिलेगा, ताकि सफर आसान हो।
आइआरसीटीसी द्वारा ट्रेन में ही हर कोच में खान भी दिया जाएगा, यह एक निश्चित शुल्क में होगा।
ट्रेन के हर कोच में एक टीटीई और आरपीएफ जवान होंगे, जो यात्री सुविधा और सुरक्षा पर जोर देंगे।
ट्रेन में सवार होने से पहले हर यात्री की जांच भी होगी, ताकि सफर में किसी तरह की दिक्कत न हो।

Back to top button

Togel Online

Rokokbet

For4d

Rokokbet

Rokokbet

Toto Slot

Rokokbet

Nana4d

Nono4d

Shiowla

Rokokbet

Rokokbet