katniLatest

कांग्रेस पार्षद मौसूफ़ अहमद ने परिषद की बैठक में घेरा सत्ता पक्ष को, निगमाध्यक्ष मनीष पाठक ने दिए ये निर्देश

कांग्रेस पार्षद मौसूफ़ अहमद ने परिषद की बैठक में घेरा सत्ता पक्ष को

कटनी। आज कटनी नगर निगम के  परिषद के विशेष सम्मेलन पार्षद एवं पूर्व नेता प्रतिपक्ष अधिवक्ता मौसूफ अहमद बिट्टू ने अपने सवालों से सत्ता पक्ष को घेरा। उन्होंने कई सवालों से सत्ता पक्ष की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए। बिट्टू ने तमाम मुद्दे पर सत्ता पक्ष को घेरा तथा प्रश्न किया कि आज के समस्त प्रस्तावों पर पूरी तैयारी के साथ नगर निगम कर्मचारी के अधिकारी कर्मचारी शायद नहीं आये तभी वह सवालों का जवाब नहीं दे पा रहे।

जनता का और सदन का कीमती समय नष्ट किया

आज परिषद की बैठक में प्रस्ताव क्रमांक 1 व 2 प्रधानमंत्री की महत्वकांक्षी योजना पर चर्चा करने हेतु प्रस्ताव सम्मेलन में रखा गया इस पर पार्षद मौसूफ बिट्टू एवं पैरवी बिट्टू द्वारा इसका विरोध करते कहा कि पूर्व से ही एमआईसी को अधिकार है कि वह इस प्रस्ताव पर निर्णय लेगी तो फिर आज यह विषय परिषद सम्मलेन में कैसे आ गया?

प्रस्ताव पर जिस पर चर्चा उपरांत निर्णय लिया गया कि अब इस विषय पर एमआईसी ही निर्णय लेगी इसी प्रकार प्रस्ताव क्रमांक 4 में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन योजना एमएसडब्ल्यू के विषय पर चर्चा में कहा कि जब जाँच समिति msw के विरुद्ध गठित की गई है तो उस प्रतिवेदन पर निर्णय लिया जाए पार्षद ने आरोप लगाया कि जांच समिति सचिव द्वारा कभी कोई सहयोग नहीं किया गया और ना ही आज किया जा रहा है समस्त दस्तावेजों के साथ ईओडब्ल्यू में एमएसडब्ल्यू के विरुद्ध शिकायत की जानी चाहिए और प्रत्येक पार्षद को अनुबंध और डीपीआर की हिंदी प्रति उपलब्ध कराई जानी चाहिए। इस बात से सहमत होते हुए अध्यक्ष मनीष पाठक ने आगामी बैठक में समस्त पार्षदजन को डीपीआर की प्रति एवं अनुबंध की प्रति हिंदी में उपलब्ध कराए जाने संबंधी निर्देश दिए साथ ही इस विषय को आगामी बैठक में पूरी जानकारी के साथ इस प्रस्ताव को रखा जाए यह निर्देश दिए गए।

Back to top button