Latest

Bangal Ki Khadi Wala Mansoon Shuru: 13 सितंबर को बंगाल की खाड़ी में नए सिस्टम से होगा बारिश का दौर शुरू

 

Bangal Ki Khadi Wala Mansoon Shuru: 13 सितंबर को बंगाल की खाड़ी में नए सिस्टम से होगा बारिश का दौर शुरू। बंगाल की खाड़ी से आगे बढ़ा कम दबाव का क्षेत्र चक्रवाती घेरे में तब्दील होकर उत्तर प्रदेश की ओर निकल गया है। इसके चलते शहर में सोमवार को दिन में वर्षा थमी रही, लेकिन स्थानीय प्रभाव के कारण शाम के समय सिटी सेंटर इलाके में झमाझम बारिश का दौर चला।

बारिश नहीं होने के कारण तापमान में बढ़ोतरी

 

दिन के समय बारिश नहीं होने के कारण तापमान में बढ़ोतरी होना शुरू हो गई है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी तीन दिन तक ऐसा ही मौसम रहेगा। 13 सितंबर को बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम सक्रिय होने पर फिर से वर्षा का दौर शुरू होगा, जो 18 सितंबर तक जारी रहेगा।

बात आस-पड़ोस के जिलों की करें, तो भिंड, मुरैना, दतिया, श्योपुर, शिवपुरी जिलों में पिछले तीन-चार दिन में जोरदार बारिश हुई है, लेकिन इस दौरान ग्वालियर में बादल धीमी गति से बरसे। शहर में सोमवार को भी पौ फटने से पहले धीमी गति से रिमझिम बारिश हुई जबकि दिन में बादल थमे रहे।

देर रात एक बार फिर वर्षा का सिलसिला शुरू हुआ। इस दौरान कुछ-कुछ इलाकों जैसे सिटी सेंटर, गोविंदपुरी, थाटीपुर, मुरार, फूलबाग, पड़ाव आदि इलाकों में तेज पानी गिरा, तो वहीं लश्कर के नई सड़क, हनुुमान चौराहा, सराफा, दौलतगंज में सिर्फ छुटपुट बूंदाबांदी ही हुई। मौसम विभाग के अनुसार वर्तमान में मध्यप्रदेश के उत्तर-पश्चिमी भागों में चक्रवाती घेरे सक्रिय हैं।

इसके अलावा कोटा व गुना से मानसून की ट्रफ लाइन भी गुजर रही है। हालांकि मध्यप्रदेश के पूर्वी और पश्चिमी भागों में इन मौसम प्रणालियों का असर ज्यादा है, लेकिन अगले 24 घंटे के दौरान ग्वालियर-चंबल संभाग में भी कहीं हल्की से मध्यम तो कहीं-कहीं भारी बारिश भी हो सकती है।

बुधवार को बंगाल की खाड़ी में एक और ताजा मौसम प्रणाली विकसित होने की उम्मीद है। इसके प्रभाव से मध्यप्रदेश के विभिन्न भागों सहित ग्वालियर-चंबल संभाग में भी 18 सितम्बर तक बारिश का क्रम जारी रहने की संभावना है।

 

Back to top button