LoC पर भारत की जवाबी कार्रवाई पाकिस्तान को भारी नुकसान

Advertisements

जम्मू: पाकिस्तान की ओर से आज जम्मू-कश्मीर के सांबा, कठुआ, नौशेरा और राजौरी जिलों में सीमावर्ती चौकियों और गांवों पर की गई भारी गोलाबारी में सेना का एक जवान शहीद हो गया और एक महिला समेत दो नागरिकों की मौत हो गई। सीमा पर गोलाबारी में दो जवानों समेत कुल 16 लोग घायल हुए हैं। भारतीय सेना पाकिस्तान की गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया।

शुक्रवार सुबह 6.40 बजे शुरु हुई फायरिंग शनिवार सुबह तक जारी थी। जवाबी कार्रवाई करते हुए भारतीय जवानों ने पाकिस्तानी सेना की कई चौकियों को तबाह कर दिया है। पाकिस्तान मीडिया के मुताबिक, भारत की फायरिंग में शुक्रवार को 4 सिविलियन मारे गए। इसके अलावा पाकिस्तान को और भी काफी नुकसान हुआ है।
yashbharat


आधिकारिक जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान ने जम्मू क्षेत्र के तीन सीमावर्ती जिलों में सीमा की अग्रिम चौकियों और गांवों पर भारी गोलाबारी की। गोलीबारी रामगढ़ की चेलारियन चौकी पर तैनात सीमा सुरक्षा बल का एक जवान हवलदार जगवीर सिंह भी घायल हो गया था। जवान को उपचार के जिला अस्पताल ले जाया गया जहां उसने दम तोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें-  महिला को 10 मिनट में दे दी कोरोना वैक्‍सीन की दो डोज, जानिए फिर क्‍या हुआ

अधिकारी के अनुसार, अभी तक आरएस पुुरा और अरनिया में दो नागरिकों की मौत की जानकारी मिली है जबकि सेना के दो जवान और 12 आम नागरिक घायल हो गए। रामगढ़ की नांगला और मल्लू चाक पर सेना के दो जवान घायल हुए हैं।
yashbharat
मृत नागरिकों की पहचान अरनिया के साई खुर्द के जीत राज की 50 वर्षीय पत्नी बचनो देवी और आरएस पुरा के निवासी कृष्णलाल के 25 वर्षीय पुत्र साहिल के रूप में की गई है। इस गोलाबारी में सेना के दो जवान और 12 नागरिक घायल हो गए हैं। सभी घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।
yashbharat

Advertisements