राजस्‍थान: ‘भगवान राम’ ने बीजेपी नेता को कह दिया ‘रावण’, पुतला जलाने से भी किया इनकार

Advertisements

राजस्थान में नगर निमग द्वारा सिरोही टाउन में आयोजित हिंदू उत्सव दशहरा में तब वहां मौजूद हर व्यक्ति हैरान रह गया जब भगवान राम का किरदार निभा रहे शख्स ने रावण का पुतले पर तीर चलाने से इंकार कर दिया। इस दौरान राम का किरदार निभा रहे मनोज कुमार माली ने मोदी सरकार पर विकास ना करने का आरोप लगया। माली ने वहां मौजूद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मंडल अध्यक्ष सुरेश सागरवंशी को दानव राजा तक कह डाला। भगराम का किरदार रहे माली ने कहा, ‘असली रावण तो मंच पर बैठे हैं। हर मुद्दे का राजनीतिकरण करते हैं। इसी परिदृश्य को देखते हुए भगवान राम को निराश होकर वापस लौटना पड़ रहा है। उन्होंने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि सुरेश सागरवंशी तुच्छ मुद्दों पर राजनीति करने वाले लोगों में से एक हैं। सिरोही में करीब बीस गरबा कमेटी हैं जो नवरात्रि के दौरान सांस्कृति कार्यक्रम आयोजित करती हैं। उन्होंने कहा कि यहां अन्य कमेटियों को 11,000 रुपए का अनुदान मिलता है लेकिन सागरवंशी 31,000 रुपए वसूलते हैं। जबकि दशहरा उत्सव नगर निगम द्वारा आयोजित किया गया था। बहुत से पार्षद तो इस मौके उपस्थित ही नहीं रहते हैं। ऐसा इसलिए ताकि वो भी बाद में इन मुद्दों पर राजनीति कर सके।

Advertisements

इसे भी पढ़ें-  केंद्रीय विश्वविद्यालयों में OBC के 55 फीसदी पद हैं खाली, मोदी सरकार ने संसद में बताया