Banking New Rule For 2022: 10 हजार से ज्यादा रकम निकाली तो लगेगा चार्ज, नए साल में बदलेंगे बैंक के ये नियम

Advertisements

Banking New Rule For 2022 । यह साल का आखिरी महीना चल रहा है। नया साल जल्द ही शुरू होने वाला है और इसी के साथ बैंक से जुड़े कुछ बड़े नियम भी बदलेंगे। इसी क्रम में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) के ग्राहकों को भी झटका लगने वाला है। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के खाताधारकों को एक लिमिट से कैश निकालने और जमा करने पर चार्ज देना होगा। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक में यह नियम 1 जनवरी से लागू हो जाएगा।

Banking New Rule For 2022 इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ने दी ये जानकारी

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक में 3 तरह के सेविंग अकाउंट खोले जाते हैं। बैंक में और भी कई सुविधाएं दी जाती हैं। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक बेसिक सेविंग अकाउंट से हर माह 4 बार कैश निकालना फ्री होगा, लेकिन इसके बाद ग्राहकों को हर निकासी पर कम से कम 25 रुपए का भुगतान करना होगा।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: 526 सेम्पल की रिपोर्ट में 81 नए पॉजिटिव केस

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक में बचत और चालू खातों में एक महीने में 10,000 रुपए जमा करने पर कोई शुल्क नहीं लगेगा। बैंक ने कहा कि इस सीमा से अधिक जमा करने पर ग्राहकों से अतिरिक्त शुल्क देना होगा। बेसिक सेविंग अकाउंट के अलावा दूसरे सेविंग अकाउंट और करंट अकाउंट से हर महीने 25,000 रुपए निकालने पर कोई चार्ज नहीं लगेगा। वहीं हर बार फ्री लिमिट के बाद पैसे निकालने पर कम से कम 25 रुपए चार्ज करने होंगे।

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर बताया गया है कि सभी नियम 1 जनवरी 2022 से लागू होंगे। इसका मतलब ये है कि नए साल से बैंक के ग्राहकों को ज्यादा भुगतान करना होगा। GST/CESS अलग से लगाया जाएगा। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ने इससे पहले 1 अगस्त, 2021 को डोर स्टेप बैंकिंग शुल्क की नई दरें लागू की थी।

Advertisements