Katni Crime News: सूने मकान में दिनदहाड़े लाखों की चोरी

Advertisements

कटनी। माधवनगर थाना अंतर्गत पीडब्लूडी कालोनी निवासी खनिज लिपिक के सूने मकान में दिनदहाड़े धावा बोलकर अज्ञात बदमाश नगदी व सोने-चांदी के आभूषण सहित लगभग 4 से 5 लाख रूपए कीमती सामान लेकर चंपत हो गए।

नगदी, सोने-चांदी के जेवर सहित 4 से 5 लाख का सामान ले गए बदमाश

चोरी की यह वारदात मंगलवार को सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे के बीच हुई। जब खनिज लिपिक व उनकी पत्नी दोनों कार्यालय गए हुए थे। कार्यालय से वापस लौटने पर मकान के अंदर सामान बिखरा देख दोनों के होश उड़ गए तथा उन्हे यह समझते देर नहीं लगी कि बदमाशों ने उनके सूने मकान में हाथ साफ किया है।

लिहाजा तत्काल मकान में हुई चोरी की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मौका मुआयना करने के साथ ही चोरों का सुराग लगाने खोजी कुत्ते का भी सहारा लिया लेकिन चोरों के संबंध में कोई सुराग हाथ नहीं लगा।

प्रारंभिक जांच पड़ताल के बाद अब पुलिस अज्ञात चोरों के विरूद्ध मामला दर्ज कर उनकी तलाश में जुट गई है। इस संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक पीडब्लूडी कालोनी निवासी सुनील कुमार पांडे खनिज विभाग में लिपिक हैं तथा उनकी पत्नी भी कलेक्ट्रेट में शासकीय नौकरी पर है।

बताया जाता है कि मंगलवार की सुबह 10 बजे के लगभग दोनों पति-पत्नी मकान में ताला लगाकर अपने-अपने कार्यालय चले गए। इसी बात का फायदा पहले से घात लगाए बैठे बदमाशों ने लगाया और उनके सूने मकान में धावा बोला।

बताया जाता है कि मकान का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे बदमाशों ने इत्मिनान से मकान का कोना-कोना छाना और अंदर से नगदी व सोने-चांदी के आभूषण सहित लगभग 4 से 5 लाख रूपए का सामान लेकर चंपत हो गए। अपनी पत्नी के साथ शाम 4 बजे के लगभग कार्यालय से घर पहुंचे सुनील कुमार पांडे को मकान में चोरी की जानकारी लगी। जिसके बाद तत्काल सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मौका मुआयना किया और चोरों का सुराग लगाने खोजी कुत्ते को भी मौके पर बुलवाया। हालांकि प्रारंभिक जांच पड़ताल में चोरों के संबंध में कोई सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगे हैं। पुलिस अज्ञात चोरों के विरूद्ध धारा 454, 380 के तहत मामला दर्ज कर उनकी तलाश में जुट गई है।

संदेहियों से पूछताछ जारी-

थाना प्रभारी इस संबंध में माधवनगर थाना प्रभारीविजय कुमार विश्वकर्मा का कहना है कि वारदात की जानकारी लगने के बाद से ही पुलिस की अलग-अलग टीमें आरोपियों की पतासाजी में लगी हुई हैं। आरोपियों का सुराग लगाने आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेंज भी खंगाली जा रही हैं। साथ ही साइबर सेल की भी मदद ली जा रही है। वहीं थाना क्षेत्र के कुछ संदेहियों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। शीघ्र ही वारदात से पर्दा उठाया जाएगा।

Advertisements