Jabalpur School News: शिक्षकों की नियुक्ति के बाद दोहरी डिग्री करने वालों की खोजबीन शुरू

Advertisements

Jabalpur School News:  जबलपुर। स्कूल शिक्षा विभाग में शिक्षकों की नियुक्ति के बाद शिकायतों का दौर शुरू हो गया है। उच्च माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षक में भर्ती हुए शिक्षकों की पदस्थापना होने के बाद कई शिक्षकों के दस्तावेजों में गड़बड़ी मिलना शुरू हो गई है। इस मामले में चयन सूची में प्रतीक्षारत अभ्यर्थियों की ओर से शिकायत हो रही है। कुछ में सच्चाई है तो बहुत सारी शिकायत फर्जी साबित हो रही है। ऐसा ही मामला दोहरी डिग्री करने वाले अभ्यर्थियों को लेकर आया है जिसमें जबलपुर के शिकायत कर्ता ने संचालनालय में तीन दर्जन से ज्यादा अभ्यर्थियों की नियुक्ति के असंवैधानिक बताते हुए जांच की मांग की है।

इस संबंध में आयुक्त स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा विभाग को पत्र जारी कर सभी संदिग्ध शिक्षकों के दस्तावेजों की छायप्रति भोपाल भेजने के निर्देश दिए है। ज्ञात हो कि नियुक्ति के पूर्व दो स्तर पर दस्तावेजों की जांच की गई थी। जिसमें जांचकर्ताओं ने दस्तावेजों को सही मानते हुए नियुक्ति के लिए स्वीकृति दी। अब नियुक्ति के पश्चात कई आवेदकों के दस्तावेजों में खामियां मिल रही है।

दोहरी डिग्री पर नियुक्ति निरस्त : स्कूल शिक्षा विभाग ने पिछले दिनों आधा दर्जन उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक शिक्षकों के एक वर्ष में दोहरी डिग्री करने के मामले में दोषी मानते हुए नियुक्ति को निरस्त किया है। इसके पश्चात कई शिकायतों में ऐसे कई शिक्षकों की नियुक्ति को गलत मानते हुए कहा गया कि आवेदकाें ने एक समय पर दो डिग्री और डिप्लोमा किया है। बता दे कि विभाग के पास शासन से निर्देश है कि एक साथ दो डिग्री को मान्यता न दी जाए। न्यायालय से भी इस संबंध में स्थिति साफ हो चुकी है। जिसके बाद विभाग ने दोहरी डिग्री के मामलों को संवैधानिक मानते हुए अभ्यर्थी को अपात्र माना है। कई शिक्षकों ने बीएड के साथ स्नातकोत्तर की डिग्री अलग-अलग विश्वविद्यालय से ली हुई है। वहीं कुछ ने दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से डिग्री ली हुई है। इधर दोहरी डिग्री करने वाले अभ्यर्थियों ने भी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और अन्य प्रदेशों को आदेश का हवाला देते हुए दोहरी डिग्री को मान्य होने का दावा किया है लेकिन फिलहाल मप्र शासन एक वक्त में दो डिग्री से जुड़े मामले में नियम के तहत अभ्यर्थियों को अमान्य कर रहे हैं।

संचालनालय की तरफ से कई अभ्यार्थियों की दोहरी डिग्री एक वक्त में होने की शिकायत आई है इस संबंध में जबलपुर संभाग में भी कुछ मामले है जिनके दस्तावेजों को बुलाकर उसे भोपाल भेजा जाएगा।

– राम मोहन तिवारी, संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा जबलपुर संभाग

Advertisements