श्रीराम संकीर्तन में डूबे श्रोता, प्राप्त किया राममय आनंद

Advertisements

Jabalpur News जबलपुर। संपूर्ण हिंदू श्रंखला परिवार,श्री राम सेवा संस्थान,श्री श्री गोपाल संघ के तत्वाधान में आयोजित प्रवचन कार्यक्रम पर सभी धर्मावलंबियों ने अपने-अपने श्री मुख से प्रवचनावली प्रस्तुत कीं।आयुषकृष्ण जी ने बताया कि श्री राम संकीर्तन हर रोग,क्षय,भय को नष्ट करने वाला सरल साधन मूलमंत्र है।
श्री शशांक ने कहा कि हम 5 दिसंबर को जो विवाह पंचमी महोत्सव मना रहे हैं और इस दिन कोई भी विवाह नहीं होता है विवाह पंचमी कथा का वाचन किया। शशिशेखर जी ने कहा कि राम की कथा एक ऐसा कल्पवृक्ष है जो किसी भी समय किसी भी स्थान और सच्चे स्मरण पर वरूफल के रूप में प्रत्यक्ष मिलता है। अन्य वक्ताओं ने अपने अपने वचनों का स्पष्टीकरण किया ,सभी श्रोताओं के मन में राममय कथाओंके साथ प्रेम की अनुभूति प्राप्त हुई। इसी अवसर पर आयुषकृष्ण नयन, श्री शशांक बर्मन, शशि शेखर, रामप्रसाद दुबे, कृतिकी बंदिनी, सौम्या श्रीवास, राधेश्याम पांडे, श्यामा त्रिपाठी आदि ने अपने मुखारविंद से श्री राम संकीर्तन का पाठ किया।

Advertisements