मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। मानसून ट्रफ दक्षिण पूर्व अरब सागर से गुजरात हुए कोंकण तट तक है। इस कारण इंदौर में अभी बादल छाए रहने के साथ बारिश का दौर दिखाई दे रहा है। अभी बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ अभी पाकिस्तान के ऊपर बना हुआ है। ऐसे में शुक्रवार को बादल कम रहेंगे लेकिन हल्की बारिश की संभावना रहेगी।

इस तरह दर्ज हुई दृश्यता में गिरावट

सुबह 7 से 8.30 बजे तक 1500 मीटर सुबह 8.30 से 10.30 बजे तक 2000 मीटर सुबह 10.30 से दोपहर 12 बजे तक 1500 मीटर दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक 2000 मीटर शाम 5 से 6 बजे तक 3000 मीटर

इस बार दिन रहेंगे ठंडे, रात में कम गिरेगा तापमान

इंदौर में इस बार दिन के तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी, वहीं रात में बादलों के कारण तापमान ज्यादा नहीं गिरेगा। प्रशांत महासागर में ला नीना के कम असर और हिंद महासागर में डायपोल की उदासीनता के कारण ठंड के मौसम में यह बदलाव दिखाई देगा। तीन साल पहले भी इसी तरह ठंड का असर कम दिखाई दिया था। इस बार ठंडे दिनों की संख्या भी कम होगी और शीत लहर कम चलने के आसार हैं।

– वेद प्रकाश सिंह, मौसम केंद्र के विज्ञानी, भोपाल

मालवा निमाड़ : फसलों को कहीं फायदा कहीं नुकसान

मालवा निमाड़ में बुधवार दोपहर से शुरू हुआ रिमझिम बारिश का दौर जारी है। मावठे की इस बारिश सें जहां गेहूं-चने की फसल को लाभ है, वहीं सब्जियों, कपास, तुअर आदि फसलों को नुकसान की आशंका व्यक्त की जा रही है। निमाड़ क्षेत्र में कटाई के बाद सूखने के लिए खेतों में रखी मिर्ची व प्याज की फसल को बारिश से नुकसान हुआ है।

जिलों में बारिश (मिमी में)

बड़वानी 33 आलीराजपुर 30 धार 13.8 मंदसौर 10 उज्जैन 10.4 खरगोन 5.4 रतलाम 5 शाजापुर 4.4 तापमान गिरा : खरगोन 8.2 डिग्री न्यूनतम तापमान धार 11.8 डिग्री से. मंदसौर12 डिग्री से. बड़वानी 13 डिग्री से. रतलाम 13.6 डिग्री से. नीमच14 डिग्री से. झाबुआ 14 डिग्री से. खंडवा 14.4 डिग्री से. उज्जैन 15 डिग्री से. आलीराजपुर 15 डिग्री से.