धर्मनगरी चित्रकूट में हिन्दुत्व के एजेंडे पर फोकस: महाकुम्भ की जिम्मेदारी विधायक संजय पाठक को दी गई

Advertisements

भोपाल। धर्मनगरी चित्रकूट से संघ के एजेंडे को धार देने की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। चित्रकूट में हिन्दू महाकुंभ का आयोजन होने जा रहा है। इसमें लव जिहाद, जनसंख्या नियंत्रण कानून समेत 12 मुद्दों पर मंथन होगा। 15 दिसंबर को होने वाले इस महाकुंभ में संघ प्रमुख मोहन भागवत, श्री श्री रविशंकर, फ़िल्म अभिनेता एवं साहित्यकार आशुतोष राणा समेत कई हस्तियां शामिल होंगी।

श्रीराम की तपोभूमि में 15 दिसम्बर को हिन्दू एकता महाकुंभ

विधायक संजय सत्येन्द्र पाठक को बनाया गया आयोजन का प्रधान सेवक
संघ प्रमुख मोहन भागवत, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, शिवराज सिंह चौहान और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा भी होंगे शामिल
लव जिहाद,जनसंख्या नियंत्रण कानून समेत 12 मुद्दों पर होगा मंथन

 

विजयराघवगढ़ के भाजपा विधायक संजय सत्येन्द्र पाठक को इस आयोजन का प्रधान सेवक बनाया गया है। उन्होंने रविवार को आयोजन स्थल का निरीक्षण किया और तैयारियों का जायजा लिया।


संजय पाठक ने तैयारियों का लिया जायजा
चित्रकूट में हिन्दू महाकुंभ का आयोजन तुलसी पीठाधीश्वर जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य कर रहे हैं।

उन्होंने आयोजन की जिम्मेदारी विधायक संजय सत्येन्द्र पाठक को दी है। पाठक ने आयोजन स्थल पर टेंट,पंडाल, रहने और खाने की व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालते हुए रविवार को स्थल निरीक्षण किया और आवश्यक निर्देश दिए।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: आज मिले 39 पॉजिटिव केस, रविवार को 326 लोगों के लिए गए थे सेम्पल

गौरतलब हो हिन्दू एकता महाकुंभ में 5 लाख लोग शामिल होंगे। महाकुंभ में पांच लाख हिंदुओं के जुटाने की तैयारी प्रारम्भ हो गई है। महाकुंभ के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत, योग गुरु बाबा रामदेव, आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर प्रसाद, साध्वी ऋतंभरा, मनोज मुंतशिर, मालिनी अवस्थी, कुमार विश्वास के अलावा कई प्रखर वक्ताओं को आमंत्रण भेजा गया है। संघ प्रमुख मोहन भागवत एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महाकुंभ में शामिल होने की स्वीकृति दे दी है।

भगवान श्रीराम की तपोभूमि धर्मनगरी में महाकुंभ आयोजन का उद्देश्य हिंदू एकता पर चिंतन करना है। महाकुंभ आयोजकों ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा, एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान, मप्र के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, साध्वी निरंजन ज्योति के अलावा यूपी के सरकार के कई मंत्रियों को आमंत्रण भेजा है।

संत भी शामिल होंगे

देश के विभिन्न मठ-मंदिरों, अखाड़ों के धर्माचार्यों, संत, महात्माओं को भी महाकुंभ में बुलाया जा रहा है। तुलसीपीठ के उत्तराधिकारी आचार्य रामचंद्र दास (जय महाराज) ने बताया कि हिंदू महाकुंभ में अतिथियों को आमंत्रण देने के लिए लंबी सूची बनी है। देशभर में शहर और गांवों में जाकर आमंत्रण पहुंचाया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: 526 सेम्पल की रिपोर्ट में 81 नए पॉजिटिव केस

उनका उद्देश्य है कि इस आयोजन में हर हिंदू पहुंचे। फिलहाल कार्यक्रम में पांच लाख से अधिक की संख्या में हिंदुओं के शामिल होने की अपेक्षा की जा रही है।

उन्होंने बताया कि हिंदू महाकुंभ में मंत्रणा के लिए 12 बिंदुओं का एजेंडा तय किया गया है। उन्होंने बताया कि संत अपनी इच्छाओं से सरकार को एक डॉक्यूमेंट के जरिए बताएंगे, ताकि सरकार उस पर अमल कर सके। बताया कि एजेंडे में मठ, मंदिर से लेकर कॉमन सिविल कोड तक है। उनके एजेंडे में सबसे पहले भगवान श्रीराम हैं।

इन बिंदुओं पर होगा मंथन

भगवान श्री राम मंदिर निर्माण, मंदिरों से सरकारी नियंत्रण खत्म हो, धर्मांतरण, जनसंख्या नियंत्रण कानून, राष्ट्रवाद एवं समान नागरिक संहिता, लव जिहाद, भारतीय दर्शन आधारित शिक्षा, नशा मुक्ति, गोरक्षा, सामाजिक समरसता, परिवार प्रबोधन और मातृशक्ति वंदना, प्रचार के विभिन्न माध्यमों द्वारा हिंदू धर्म की अवहेलना एवं दुष्प्रचार, पर्यावरण।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: 526 सेम्पल की रिपोर्ट में 81 नए पॉजिटिव केस

हर सेक्टर से हस्तियां होंगी शामिल

महाकुंभ में हर सेक्टर से जुड़े बड़े चेहरों को बुलाने के लिए आमंत्रण भेजा जा रहा है। काफी लोगों को आमंत्रण भेजा जा चुका है। इस कार्यक्रम में बालीवुड एक्टर से लेकर लोकगायक व ब्यूरोक्रेसी से जुड़े लोग भी शामिल होंगे। यह सभी अपने-अपने क्षेत्र में हिंदुओं के प्रति चल रही विषमताओं पर मंथन करेंगे। महाकुंभ में चिदानंद मुनि, रामानुजाचार्य, कैलाशानंद गिरी महाराज आदि के भी शामिल होने की संभावना है।
आशुतोष राणा, मनोज तिवारी भी आएंगे
तुलसीपीठ के उत्तराधिकारी ने बताया कि अभी तक फिल्मों में हिंदू धर्म को उपेक्षित किया जाता है। इसको देखते हुए फिल्म जगत से जुड़े लोग बुलाए जा रहे हैं।

आचार्य रामचंद्र दास ने कहा कि हाल ही में बन रही आश्रम फिल्म में भी हिंदू धर्म को गलत तरीके से प्रदर्शित किया जा रहा है। ऐसे मामलों में उसकी वजह व समाधान पर मंथन होगा। कार्यक्रम में आशुतोष राणा, मनोज तिवारी समेत कई फिल्मी हस्तियां शामिल होंगी।

 

 

Advertisements