MP के गृहमंत्री की चेतावनी के बाद डाबर ने हटाया विवादित विज्ञापन

Advertisements

भोपाल। आयुर्वेद उत्पाद निर्माता कंपनी ‘डाबर’ ने अपना विवादित विज्ञाापन इंटरनेट मीडिया सहित अन्य सभी प्लेटफार्म से हटा लिया। कंपनी ने अपने विज्ञापन के लिए माफी भी मांगी है। उसके द्वारा कहा गया कि यदि उनके विज्ञापन से किसी को ठेस पहुंची होतो वे बिना शर्त माफी मांगते हैं। गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डा नरोत्तम मिश्रा ने सोमवार को चेतावनी दी थी कि दो युवतियों द्वारा आपस में करवा चौथ का व्रत खोलने का विज्ञापन तत्काल हटाया जाए। उन्होंने पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी को भी निर्देश दिए थे कि सारे मामले का परीक्षण किया जाए और संबंधित कंपनी से इसे हटाने के लिए बातचीत की जाए। न माने तो वैधानिक कार्रवाई की जाए।

इसे भी पढ़ें-  Guest Professor Jobs: कॉलेजों में अतिथि विद्वानों की भर्ती हेतु UGC का सर्कुलर जारी

सूत्रों का कहना है कि गृहमंत्री के निर्देश के बाद डीजीपी जौहरी ने कंपनी से बातचीत की, जिसके बाद कंपनी ने अपना विवादित विज्ञापन हटा लिया। इधर मंगलवार को गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कंपनी द्वारा विज्ञापन हटाने और खेद जताने के बाद मामले का पटाक्षेप हो गया है। मिश्रा ने कहा कि चाहे वेब सीरीज हो या विज्ञापन, धार्मिक मान्यताओं को ठेस पहुंचाने की हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने पुलिस महकमें को भी निर्देश दिए कि इंटरनेट मीडिया पर भी नजर रखें, कहीं कोई जानबूझकर धार्मिक रीति-रिवाजों के साथ खिलवाड़ न कर पाए।

Advertisements