इन कंपनियों के शेयरों में दिखा बंपर उछाल, घाटे में रहीं मारुति और HUL जैसी कंपनियांटाटा मोटर्स के शेयरों में उछाल

Advertisements

BSE Sensexशेयर बाजारों में तेजी का सिलसिला लगातार पांचवें कारोबारी सत्र बुधवार को भी जारी रहा. बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) और एनएसई निफ्टी (NSE Nifty) दोनों नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुए. निवेशकों की वाहन, बिजली और ढांचागत क्षेत्र से जुड़े शेयरों में लिवाली जारी रहने से बाजार में तेजी बनी हुई है. सेंसेक्स के शेयरों में 5 प्रतिशत से अधिक की तेजी के साथ सबसे अधिक लाभ में महिंद्रा एंड महिंद्रा रही. इसके अलावा आईटीसी, एलएंडटी, टेक महिंद्रा, टाइटन और टाटा स्टील में भी प्रमुख रूप से तेजी रही.

दूसरी तरफ मारुति, एचयूएल, नेस्ले इंडिया, एक्सिस बैंक और एसबीआई में गिरावट रही. बीएसई वाहन, लोगों से जुड़ी सेवाएं, औद्योगिक और बिजली सूचकांकों में 3.46 प्रतिशत तक की तेजी रही. वहीं रियल्टी सूचकांक नुकसान में रहा. मिडकैप और स्मॉलकैप (मझोली और छोटी कंपनियों के शेयर) सूचकांक 1.56 प्रतिशत तक मजबूत हुए.

टाटा मोटर्स में जबर्दस्त उछाल

टाटा मोटर्स लि. का शेयर बुधवार को 20 प्रतिशत उछला. कंपनी के यात्री इलेक्ट्रिक वाहन कारोबार के लिए टीपीजी राइज क्लाइमेट से एक अरब डॉलर (7,500 करोड़ रुपये) जुटाने के बयान के बाद शेयर में तेजी आई. टाटा मोटर्स का शेयर बीएसई में 20.43 प्रतिशत उछलकर 506.75 रुपये पर पहुंच गया. कारोबार के दौरान यह 23.56 प्रतिशत उछलकर 52 सप्ताह के उच्च स्तर 519.95 रुपये तक चला गया था.

इसे भी पढ़ें-  शिया मुसलमानों का जानी दुश्मन बना ISIS, खुलेआम चेताया- जहां भी रहोगे, हम तुम्हें मार देंगे

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में यह 20.44 प्रतिशत उछलकर 506.90 रुपये पर बंद हुआ. इस तेजी के साथ कंपनी का बाजार पूंजीकरण 28,538.6 करोड़ रुपये बढ़कर 1,68,256.60 रुपये पर पहुंच गया. टाटा मोटर्स ने मंगलवार को एक बयान में कहा था कि वह यात्री इलेक्ट्रिक वाहन कारोबार के लिए टीपीजी राइज क्लाइमेट से एक अरब डॉलर (7,500 करोड़ रुपये) जुटाएगी. वित्तीय कंपनियों और रिलायंस इंडस्ट्रीज में तेजी से बाजार को समर्थन मिला. टाटा समूह के शेयर खासकर टाटा मोटर्स पर निवेशकों की नजर रही. कंपनी की इलेक्ट्रिक वाहन इकाई में टीपीजी के एक अरब डॉलर के निवेश की खबर से इसके शेयर में तेजी रही.

इसे भी पढ़ें-  कटनी के माधवनगर में सिर में पत्थर पटक कर युवक की हत्या

टाटा ग्रुप की कमाई

आज की तारीख में टाटा ग्रुप का मार्केट कैप साढ़े 23 लाख करोड़ तक पहुंच गया है. इस साल सितंबर के अंत तक टाटा ग्रुप का मार्केट कैप साढ़े 22 लाख करोड़ रुपये के आसपास था. यानी कि महज 10 दिन के भीतर ही इस ग्रुप ने सवा लाख करोड़ रुपये की कमाई की है. इसमें सबसे बड़ी तेजी टाटा मोटर्स की देखी गई है. टाटा मोटर्स में पहले की तुलना में 50 परसेंट के आसपास बढ़ोतरी है.

इसी तरह टीईएमएल के शेयर में भी 43 परसेंट का उछाल देखा गया है. टाटा मोटर्स डीवीआर और टाटा पावर में भी तेजी का रुख है. टाटा पावर में 41 परसेंट, टाटा मोटर्स डीवीआर में 25 परसेंट और टाटा इनवेस्ट के शेयरों में 24 परसेंट की बढ़ोतरी दिखी है. ये सभी टाटा ग्रुप के टॉप परफॉर्मिंग शेयर स्टॉक हैं.

इसे भी पढ़ें-  Kerala Weather Updates: केरल में भारी बारिश और भूस्खलन से तबाही, अब तक 9 लोगों की मौत, रेस्क्यू आपरेशन जारी

रिलायंस ग्रुप का हाल

शेयर मार्केट में रिलायंस ग्रुप और टाटा ग्रुप में लगातार मुकाबला जारी है. इस महीने के आंकड़े देखें तो रिलायंस ग्रुप का मार्केट कैप एक से डेढ़ लाख करोड़ के आसपास बढ़ा है जबकि टाटा मोटर्स के एक से सवा लाख करोड़ के करीब रहा है. बुधवार का आंकड़ा देखें तो आखिरी आधे घंटे में आईटी शेयरों में तेजी दिखी. पावर, कैपिटल गुड्स और मेटल के शेयरों में चमक दिखी. 27 सितंबर को, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड का मार्केट कैप करीब 16 लाख करोड़ रुपये के पार चला गया. इससे पहले 3 सितंबर को रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप 15 लाख करोड़ रुपये तक उछल गया था. बुधवार को मारुति, एचयूएल, नेस्ले इंडिया, एक्सिस बैंक और एसबीआई में गिरावट रही. रियल्टी सेक्टर की कंपनियों के शेयर घाटे में रहे.

Advertisements