आपस में लड़ती बहुत हैं महिला कर्मचारी, सशक्तीकरण के कार्यक्रम में बोले राजस्थान के शिक्षा मंत्री

Advertisements

राजस्थान के शिक्षा मंत्री जीएस डोटासरा ने बीते सोमवार को महिला सशक्तीकरण पर आयोजित एक कार्यक्रम में एक विवादित बयान दे दिया है। उन्होंने कहा कि महिला कर्मचारी आपस में बहुत लड़ती हैं। उनके इस बयान के बाद विवाद गहराने की संभावना है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गहलोत कैबिनेट के मंत्री ने कहा, ”सरकार ने महिलाओं के लिए नीति पेश की। उन्हें प्राथमिकता दी जाती है, लेकिन महिला कर्मचारियों का आपस में विवाद है। जहां महिला कर्मचारी हैं, वहां प्रधानाचार्य या शिक्षक ‘सेरिडोन’ लेते हैं।”

 

 

आपको बता दें कि सेरिडोन सर दर्द की दवाई है। गहलोत सरकार के शिक्षा मंत्री ने महिलाओं को नसीहत देते हुए कहा कि वह इससे आगे निकल गईं तो पुरुषों से आगे निकल जाएंगी।

उन्होंने यह भी कहा कि राजस्थान सरकार ने हमेशा महिलाओं की सुरक्षा और आराम सुनिश्चित किया और उन्हें नौकरियों में पसंदीदा पोस्टिंग दी। डोटासरा ने कहा, “हमने नौकरियों, चयन और पदोन्नति में महिलाओं को वरीयता दी है। कई लोग कहते हैं कि हमने शहरों में और उसके आसपास सबसे अधिक महिलाओं को तैनात किया है।”

इसे भी पढ़ें-  Weather Alert: केरल के 11 जिलों में आरेंज अलर्ट, उत्तराखंड में तबाही, बारिश और भूस्खलन देश में 76 की मौत

कोविड के प्रभाव के बारे में बोलते हुए, उन्होंने कहा कि महामारी ने बच्चों और गरीबों की शिक्षा को सबसे ज्यादा प्रभावित किया है। उन्होंने कहा, “कई लोगों के लिए एक दिन में दो वक्त का भोजन करना मुश्किल था।”

Advertisements