LAC: अरुणाचल सेक्टर में आमने-सामने आए भारत-चीन के सैनिक, पेट्रोलिंग के दौरान हुई तनातनी

Advertisements

 सूत्रों के मुताबिक एअरुणाचल सेक्टर में भारत और चीन के सैनिकों के बीच आमना-सामना हुआ है. लद्दाख में पिछले साल हुए संघर्ष के बाद से LAC पर तनाव को कम करने की कोशिशें लगातार जारी हैं, वहीं अरुणाचल में ये फेसऑफ हुआ है. सूत्रों के मुताबिक दोनों सेनाओं के बीच LAC की धारणा में अंतर है. दोनों पक्षों के बीच इस फेसऑफ के बाद बातचीत कुछ घंटों तक चली. बाद में मौजूदा प्रोटोकॉल के आधार पर बातचीत के जरिए इस तनातनी को सुलझा लिया गया.

डिफेंस के सूत्रों के मुताबिक इस फेसऑफ में किसी भी तरह के नुकसान की कोई जानकारी नहीं है. सूत्रों के मुताबिक भारत-चीन सीमा का औपचारिक रूप से सीमांकन नहीं किया गया है, इसलिए देशों के बीच LAC की धारणा में अंतर है. दोनों देशों के बीच मौजूदा समझौतों और प्रोटोकॉल के पालन से अलग-अलग धारणाओं वाले इन क्षेत्रों में शांति संभव है.

इसे भी पढ़ें-  Twitter In Action: पराग अग्रवाल के CEO पद संभालते ही एक्शन में ट्विटर, पर्सनल Photos-Videos को लेकर लगाए ये प्रतिबंध

फेसऑफ के वक्त ऐसे मैनेज होती है स्थिति

दोनों पक्ष अपनी धारणा के अनुसार गश्ती गतिविधियां करते हैं. जब भी दोनों पक्षों के गश्ती दल मिलते हैं, तो दोनों पक्षों द्वारा सहमत स्थापित प्रोटोकॉल और तंत्र के अनुसार स्थिति को मैनेज किया जाता है. सूत्रों ने कहा कि सैनिकों के हटने से पहले कुछ घंटों तक आमना-सामना हुआ.

अगस्त में गोगरा हाइट्स में हुआ आमना-सामना

इससे पहले अगस्त में भारत और चीन ने गोगरा हाइट्स क्षेत्र से चीनी सैनिकों को पीछे भेज दिया था. उस वक्त उन्हें उनके स्थायी ठिकानों पर वापस भेज गया था. कमांडर स्तर की 12वें दौर की बातचीत में भारत और चीन दोनों पक्ष, सैनिकों को पेट्रोलिंग पॉइंट 17A से हटाने पर सहमत हुए थे, ये पॉइंट पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में दोनों देशों के बीच घर्षण बिंदुओं में से एक है.

इसे भी पढ़ें-  Transfer: मध्य प्रदेश आईपीएस अफसरों के तबादले, जानिए कौन कहां हुआ पदस्थ

हॉट स्प्रिंग पर नहीं बनी है अभी बात

भारत और चीन के बीच पिछले एक साल से ज्यादा वक्त से पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव जारी है. दोनों ही पक्षों ने सीमा पर तनाव को कम करने के लिए कई दौर की बातचीत की है. वहीं, भारत चीन के बीच हाल ही में 12वें दौर की बैठक हो चुकी है. दोनों देशों के बीच हॉट स्प्रिंग फ्रिक्शन पॉइंट को लेकर अभी चर्चा या समाधान नहीं हुआ है.

Advertisements