Diabetes Prevention : डायबिटीज के मरीज डाइट में शामिल करें ये फल, कंट्रोल में रहेगा शुगर

Advertisements

डायबिटीज (Diabetes) के मरीज के लिए शुगर को कंट्रोल में रखना बहुत मुश्किल होता है. खासतौर पर वे लोग जिन्हें मीठा खाना बहुत पसंद होता है. ऐसे लोग ताजे फ्रूट्स खा सकते हैं. इससे आपकी क्रेविंग भी कम होगी और शरीर को जरूरी पोषक तत्व भी मिलेंगे. मौसमी फल डायबिटीज के साथ -साथ अन्य बीमारियों को भी दूर रखने में मदद करता है. इनमें विटामिन्स और मिनरल्स की भरपूर मात्रा होती है.

हम आपको कुछ ऐसे फ्रूट्स के बारे में बता रहे हैं जिसमें फाइबर और पानी की अच्छी मात्रा होती है. ये शरीर में शुगर के लेवल को कम करने में मदद करता है. आइए बिना देर किए जानते हैं कैसे ये फल शुगर को कंट्रोल में रखने में मदद करते हैं.

इसे भी पढ़ें-  Sports league Article 370: अनुच्छेद 370 के नाम पर स्पोर्ट्स लीग शुरू करेगी भाजपा, अमित शाह के संसदीय क्षेत्र में होगा आयोजन

सेब

सेब में पौष्टिक तत्व ही नहीं होते हैं बल्कि कई स्टडी में कहा गया है कि टाइप -2 डायबिटीज के खतरे को भी कम करता है. इसमें कई तरह के पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं.

पपीता 

पपीता में प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट होता है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है. ये हमारे बाकी के सेल्स को डैमेज होने से बचाने में मदद करता है. इसमें फ्लेवनॉयड जैसे प्राकृतिक तत्व होते हैं जो ब्लड शुगर को मेंटेन रखने में मदद करता है.

बैरिज

बैरिज डायबिटीज के मरीज के लिए अच्छा होता है. आप ब्लैकबैरिज, ब्लू बैरिज, स्ट्रॉबेरीज चुन सकते हैं. इसमें एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्स और फाइबर की भरपूर मात्रा होती है.

इसे भी पढ़ें-  Bhopal Railway News: विवेक कुमार होंगे भोपाल रेल मंडल के नए सीनियर डीओएम, डा. मीना का तबादला

खरबूजा

खरबूजा एक हाइड्रेटिंग फूड होता है और डायबिटीज के मरीज को खाने की सलाह दी जाती है. इसमें विटामिन बी, सी, पोटेशियम और मैग्नीशियम की भरपूर मात्रा होती है जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है.

संतरा

सिट्रस फूड में फाइबर की भरपूर मात्रा है जो शुगर एब्जॉर्ब होने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है. इसमें विटामिन सी की भरपूर मात्रा होती है जो इम्युनिटी को मजबूत करने में मदद करता है. आप अन्य फ्रूट्स के साथ फलेक्स सीड्स और दालचीनी मिलाकर खा सकते है. इनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है.

नाशपाति

नाशपाति में पोषक तत्वों की भरपूर मात्रा होती है जो सूजन को कम करने में मदद करता है और पाचन को भी बेहतर करता है. अध्ययनों में कहा गया है कि पोषक तत्वों के साथ नाशपाति खाने से टाइप -2 डायबिटीज के खतरे को कम किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें-  K L Rahul Fitness :चोट से उबर रहे हैं केएल राहुल, जल्द हो सकती है वापसी

 

Advertisements