जबलपुर में सुबह सुबह विमान हाईजेक की खबर से हड़कंप, फिर पता लगा ये.….

Advertisements

जबलपुर में विमान हाईजैक ! जबलपुर। विमान के पायलट ने जबलपुर के डुमना एयरपोर्ट पर एटीसी को हाइजैकिंग की सूचना दी और विमान में ईंधन भरवाने के लिए उतरने की अनुमति मांगी। विमान को आइसोलेशन के जबलपुर विमानतल पर उतरने की अनुमति दी गई। विमानतल समिति के अध्यक्ष एवं कलेक्टर कर्मवीर शर्मा व पुलिस अधीक्षक को हाईजैकिंग की तुरंत सूचना दी गई और बम विरोधी दस्ते को तुरंत विमानतल पर पहुंचने के लिए कहा गया। एके-47 हथियार से लैस तीन से चार हाइजैकर अरबी और अंग्रेजी भाषा मे बात कर रहे थे और विमान मे तेल भरने के अलावा अपने तीन साथियों को जो जबलपुर जेल में बंद हैं उन्हें छोड़ने और विमान में भेजने की मांग रहे थे
जबलपुर के डुमना एयरपोर्ट पर सोमवार को विमान की एंटी हाइजैकिंग का अभ्यास किया गया। इस दौरान एयरपोर्ट पर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा अन्य अधिकारियों के साथ मौजूद रहे।
बताया गया कि सोमवार को सुबह 10.35 मिनट पर आर्यामान एयरलाइंस का यात्री विमान अहमदाबाद से रायपुर जा रहा था, उसे हाईजैक कर लिया गया। विमान के पायलट ने जबलपुर के डुमना एयरपोर्ट पर एटीसी को हाइजैकिंग की सूचना दी और विमान में ईंधन भरवाने के लिए उतरने की अनुमति मांगी। विमान को आइसोलेशन के जबलपुर विमानतल पर उतरने की अनुमति दी गई। विमानतल समिति के अध्यक्ष एवं कलेक्टर कर्मवीर शर्मा व पुलिस अधीक्षक को हाईजैकिंग की तुरंत सूचना दी गई और बम विरोधी दस्ते को तुरंत विमानतल पर पहुंचने के लिए कहा गया।

इसे भी पढ़ें-  JABALPUR: दो भाइयों ने मारा चाकू, एक घंटे तक तड़पता रहा पर किसी ने मदद नहीं की, हो गई मौत

एके-47 हथियार से लैस तीन से चार हाइजैकर अरबी और अंग्रेजी भाषा मे बात कर रहे थे और विमान मे तेल भरने के अलावा अपने तीन साथियों को जो जबलपुर जेल में बंद हैं उन्हें छोड़ने और विमान में भेजने की मांग रहे थे। मांग पूरी न होने पर इण्डियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के फ्यूल स्टेशन को वहां पहले से ही रखे गए बम से उड़ाने की धमकी देने लगे।

विमान को उड़ने से रोकने के लिए रनवे पर अग्नि शमन गाड़ियों को खड़ा कर दिया गया। विमानतल समिति के अध्यक्ष द्वारा हाईजैकर के साथ संवाद स्थापित किया गया और साथ ही साथ बम विरोधी दस्ते को बम ढूँढकर निष्क्रिय करने के लिए कहा गया। बम विरोधी दस्ते ने तुरंत बम को खोज निकाला और निष्क्रिय कर दिया। इसी बीच बातचीत को जारी रखा गया और सुरक्षा कर्मचारियों ने बड़ी सावधानी से हाईजैकर पर काबू पा लिया।

इसे भी पढ़ें-  सागर मेडिकल कॉलेज के लापता प्रो सर्वेश जैन जबलपुर पहुंचे

इस प्रकार जबलपुर विमानतल पर एंटी हाईजैकिंग का अभ्यास किया गया और इस तरह की होने वाली घटनाओं के लिए अपने आप को तैयार किया। एंटी हाईजैकिंग की मॉकड्रिल के दौरान एयरपोर्ट कमेटी के अध्यक्ष एवं कलेक्टर कर्मवीर शर्मा मौजूद थे।

Advertisements