Bhopal Crime News: सिपाही का आरोप- एसपी व महिला अधिकारी ने डंडों से पीटा, निलंबन की धमकी दी

Advertisements

Bhopal Crime News: भोपाल । राजधानी में पदस्थ एक सिपाही ने पुलिस अधीक्षक (एसपी) व एक महिला अधिकारी पर डंडे से मारपीट के गंभीर आरोप लगाए हैं। मारपीट के निशान सिपाही के शरीर पर साफ-साफ देखे जा सकते हैं। उसका कहना है कि मुझे क्यों पीटा गया, अभी तक समझ नहीं आ रहा है। उधर, मारपीट के आरोप पर एसपी ने कहा कि सिपाही आरोप क्यों लगा रहा है, इसकी मुझे जानकारी नहीं है। सिपाही की महिला अधिकारी ने शिकायत की थी, जिस पर उसे निलंबित किया गया था। हालांकि इस पूरे मामले में पीड़ित सिपाही ने घटना के तीन दिन बाद हबीबगंज थाना में मारपीट की लिखित शिकायत की है।

इसे भी पढ़ें-  Home Loan For Police Policy: नेताओं और पुलिस वालों को होम लोन देने से किसी ने मना नहीं किया: वित्त मंत्री

जानकारी के अनुसार नेहरू नगर पुलिस लाइन निवासी भूपेंद्र सिंह जिला पुलिस बल में आरक्षक हैं। करीब एक साल से वह एक महिला अधिकारी (डीएसपी) के पास सरकारी वाहन चालक के पद पर तैनात थे। भूपेंद्र सिंह ने नवदुनिया को बताया कि 22 सितंबर को ड्यूटी पर गए थे। तब उक्त महिला अधिकारी ने उसका मोबाइल व अन्य सामान छीन लिया था। जिसकी शिकायत करने एसपी (मुख्यालय) रामजी श्रीवास्तव के आफिस में पहुंचे। जहां शाम को क्राइम ब्रांच के तीन पुलिसकर्मी आए और बोले कि साहब तुमको याद कर रहे हैं। इसके बाद वे उसे चार इमली इलाके में स्थित एसपी के सरकारी बंगले पर लेकर पहुंचे। जहां एसपी और डीएसपी ने उसके साथ मारपीट की। पहले उसे सड़क पर डंडों से पीटा गया। बाद में उसे बंगले में ले जाकर मारपीट की। साथ ही धमकी दी कि अगर शिकायत की तो उसे निलंबित कर देंगे। अधिकारियों के डर के कारण वह तीन दिन तक शिकायत करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था।

इसे भी पढ़ें-  Guest Professor Jobs: कॉलेजों में अतिथि विद्वानों की भर्ती हेतु UGC का सर्कुलर जारी

सिपाही के खिलाफ 22 सितंबर को गंभीर शिकायत मिली थी। उसके बाद उसे निलंबित कर दिया गया था। उसके खिलाफ एक महिला अफसर ने शिकायत की है, जो सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के अनुसार बताई नहीं जा सकती हैं। वह मुझ पर मारपीट के आरोप क्यों लगा रहा है, इसकी मुझे जानकारी नहीं है। निलंबन के इतने दिन बाद ऐसा क्यों किया, इसकी भी मुझे जानकारी नहीं है। मैंने अपने आला अधिकारियों को पूरा घटनाक्रम बता दिया है।

Advertisements