ससुर ने पुत्रवधु की हत्या के लिए दी तीन लाख की सुपारी, मुठभेड़ में तीन शूटर गिरफ्तार

Advertisements

मेरठ में रविवार दोपहर खिर्वा रोड पर कंकरखेडा पुलिस और एसओजी की टीम ने मुठभेड़ में तीन शूटरों को पकड़ लिया। तीनों भाडे के शूटर निकले, जो सुपारी लेकर एक महिला की हत्या करने जा रहे थे। पुलिस की मुस्तैदी से एक महिला की जान बच गई। पुलिस तीनों शूटरों को थाने ले आई। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

सीओ दौराला आशीष शर्मा ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि तीन भाडे के शूटर एक कार में आ रहे हैं, जिस पर पुलिस ने एसओजी की टीम के साथ मिलकर खिर्वा रोड़ पर मुठभेड़ के दौरान तीनों को पकड़ लिया। पकड़े गए शूटर अजीत, दीपक और सोनू को पुलिस थाने ले आई। पुलिस ने तीनों के पास से दो तमंचे, कारतूस, चाकू व एक कार बरामद की है।

इसे भी पढ़ें-  आर्यन खान को जेल में अकेला नहीं छोड़ूंगा, उसे कुछ नहीं होना चाहिए...

पुलिस पूछताछ में तीनों ने बताया कि खरखौदा के गांव मोरना निवासी ओम प्रकाश ने अपने बेटे जितेंद्र की पत्नी जयोति की हत्या करने के लिए उन्हें तीन लाख रुपये की सुपारी दी थी। शूटरों से जानकारी मिलने पर पुलिस ने ओम प्रकाश को भी हिरासत में ले लिया।

पूछताछ में ओमप्रकाश ने पुलिस को बताया कि एक वर्ष पहलेे उसके बेटे जितेंद्र की बीमारी के चलते मौत हो गई थी। वह नहीं चाहता था कि उसके बेटे की पत्नी जयोति  के नाम पर जमीन हो जाए। इसलिए उसने ज्योति की हत्या का प्लान बनाया और शूटरों को सुपारी दी।

तीनों शूटर रविवार को ज्योति की हत्या करने जा रहे थे। लेकिन, पुलिस ने घटना को अंजाम देने से पहले ही तीनों को पकड़ लिया। पुलिस की मुस्तैदी के चलते ज्योति की जान बच गई। पुलिस की इस कामयाबी पर एसएसपी ने टीम को बधाई देते हुए उनका उत्साह बढ़ाया।

इसे भी पढ़ें-  नौसेना के 2 रिटायर्ड और एक सेवारत अफसर सहित 5 गिरफ्तार, पनडुब्बी कार्यक्रम की सूचनाएं लीक करने का आरोप, जांच कर रही CBI

 

Advertisements