सीवर लाइन में उतरे तीन मजदूरों की जहरीली गैस से दम घुटने से मौत

Advertisements

सिंगरौली । शहरी क्षेत्र में सीवर लाइन की सफाई व मरम्मत के दौरान जहरीली गैस से दम घुटने के कारण तीन मजदूरों की मौत हो गई। जिला मुख्यालय से तीन किलोमीटर दूर बैढ़न-कचनी मुख्य मार्ग में तीनों मजदूर शुक्रवार शाम करीब साढ़े तीन बजे 30 फीट गहरी सीवर लाइन में उतरे थे।

बाहर से एक श्रमिक उनकी लोकेशन लेने मौजूद था। सीवर लाइन में उतरने के बाद जब तीनों श्रमिकों की ओर से कोई जवाब नहीं मिला तो घबरा कर उन्हें देखने के लिए वह खुद पाइप लाइन में नीचे उतर गया।

जब तीनों मजदूरी की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली तो उसने शोर मचाया। इसके बाद नगर निगम और प्रशासन को सूचना दी गई। सीवर लाइन का निर्माण केके स्पन कंपनी करा रही है।

इसे भी पढ़ें-  MP GOVT JOBS- दीनदयाल योजना में BA-MA-DCA वालों के लिए सरकारी नौकरियां

दो घंटे बाद निकाले गए शव : घटना की जानकारी मिलने पर अपर कलेक्टर डीपी बर्मन व एसडीएम ऋषि पवार पहुंचे और राहत कार्य शुरू कराया गया। एनटीपीसी से सीआइएसएफ की टीम बुलाई गई। दो घंटे बाद करीब साढ़े पांच बजे टीम ने श्रमिकों को गड्ढे से बाहर निकाला तो उनकी सांसें थम चुकी थीं।

इस घटना में श्रमिक कन्हैयालाल यादव पुत्र छोटेलाल यादव निवासी चांचर, नरेंद्र कुमार रजक पुत्र रघुनाथ रजक निवासी चिनगी टोला तेलदह व इंद्रभान सिंह पुत्र देवराज सिंह निवासी भोइपुरा बुधवारा भोपाल की मौत हुई है। पुलिस ने ठेका कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

इसे भी पढ़ें-  KATNI: सुबह- सुबह मन्दिर के गेट खुले तो घंटी से लटकता मिला युवक का शव

सीवर लाइन में काम कर रहे तीन मजदूरों की मौत हुई है। पूरे मामले की जांच होने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

राजीव रंजन मीणा, कलेक्टर सिंगरौली

Advertisements