पटरी से उतरी मालगाड़ी, नदी में गिरे छह डिब्बे, यातायात बाधित

Advertisements

पूर्वी तट रेलवे के अंगुल-तालचर रोड मार्ग पर चलने वाली एक मालवाहक ट्रेन के कम से कम छह डिब्बे सोमवार देर रात पटरी से उतर गए और नदी में गिर गए. अधिकारियों ने बताया कि गेंहू से लदे छह डिब्बे देर रात करीब ढाई बजे पटरी से उतर गए और नदी में गिर गए. लोको पायलट और अन्य कर्मचारियों के सुरक्षित होने और इंजन के पटरी पर ही होने की खबर मिली है.

उन्होंने बताया कि बंगाल की खाड़ी में गहरे दबाव से हुई भारी बारिश के कारण नंदीरा नदी पर बने पुल पर हादसा होने का संदेह है. हादसा उस समय हुआ, जब मालवाहक ट्रेन फिरोजपुर से खुर्दा रोड की ओर जा रही थी. तालचर में सोमवार को 160 मिमी और अंगुल (74 मिमी) बारिश दर्ज की गई थी. उन्होंने बताया कि हादसे के बाद पूर्वी तट रेलवे ने 12 ट्रेनें रद्द कर दीं, आठ के मार्ग बदल दिए और कई अन्य को बीच में ही रोक दिया.

बिलासपुर स्टेशन की ओर लोको शेड से सिरगिट्टी

हाल ही में ऐसा ही मामला सामने आया था. दरअसल कुछ दिनों पहले ही बिलासपुर रेलवे स्टेशन से ठीक पहले तारबाहर-सिरगिट्टी रेलवे फाटक के पास सोमवार दोपहर बड़ा हादसा होने से टल गया. एक ट्रेन का इंजन बिना ड्राइवर स्टार्ट होकर बिलासपुर स्टेशन की ओर लोको शेड से सिरगिट्टी की ओर निकल गया.

इसे भी पढ़ें-  PM मोदी की संपत्ति में 22 लाख का इजाफा, जानें कितने के मालिक हैं प्रधानमंत्री

हादसा होते होते टला

कुछ दूरी तक पटरी पर दौड़ने के बाद इंजन खंभों और सिग्नल को तोड़ता हुआ सड़क पर उतर गया. इंजन करीब 100 मीटर तक सड़क पर घिसटता रहा. जिस जगह हादसा हुआ, वह शहर का व्यस्ततम इलाका है. गनीमत रही कि इंजन की चपेट में कोई नहीं आया. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जब उन्होंने इंजन को पास से देखा तो उसमें कोई ड्राइवर नहीं था. अधिकारियों की पूछताछ में लोको शेड के किसी सफाई कर्मचारी से इंजन स्टार्ट होने और उसके चालू होने की बात सामने आई है.

Advertisements