सितंबर भर कन्या राशि में रहेगी मंगल और बुध की युति, जानिए किन राशियों के लोग रहें सतर्क

Advertisements

वैदिक ज्योतिष धारणा में मंगल ग्रह 6 सितंबर 2021 को कन्या राशि में गोचर कर चुके हैं। मंगल को साहस और ऊर्जा का कारक माना जाता है। कन्या राशि में पहले से बुध के विराजमान होने से मंगल के साथ युति बनी है। यह ऊर्जा सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रकार की हो सकती है। बुध को वाणी का कारक माना जाता है। जानिए मंगल और बुध की युति किन राशियों के लिए खड़ी करेंगी मुश्किलें-

वृषभ- सितंबर भर आप खुद को अंदर ही अंदर चिड़चिढ़ा महसूस कर सकते हैं। आपको बेवजह रुकावटों का सामना करना पड़ सकता है। आप अपने किए गए प्रयासों में असफल हो सकते हैं। सेहत का विशेष ख्याल रखने की जरूरत है।

मिथुन- कन्या राशि में मंगल और बुध की युति आपके लिए शुभ नहीं रहेगी। इस दौरान आपको बेचैनी हो सकती है। किसी से मित्र से धोखा मिल सकता है। गुप्त शत्रुओं से सावधान रहने की जरूरत है।

मकर– मकर राशि वालों के वैवाहिक जीवन में तनाव आ सकता है। इसके कारण जीवनसाथी के साथ आपके संबंध मधुर नहीं रहेंगे। कड़ी मेहनत के बाद भी आपको परिणाम प्राप्त नहीं होंगे। कार्यस्थल पर सहकर्मी मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं।

मीन- यह गोचर आपके जीवनसाथी के साथ गलतफहमी पैदा करवा सकता है। आपके कार्यस्थल पर सबके साथ अप्रिय संबंध हो सकते हैं। परिस्थितियां आपको मानसिक संताप दे सकती हैं। वाद-विवाद से बचकर रहें। इस दौरान आप अपमानित महसूस कर सकते हैं।

Advertisements