बड़ी कार्रवाई: 2 कर्मचारी निलंबित, 8 उपयंत्री समेत 9 की सेवा समाप्त, 3 का वेतन काटा

Advertisements

भोपाल। मध्य प्रदेश  में आए दिन शासकीय कामों में लापरवाही बरतने वालों पर अधिकारियों-कर्मचारियों पर कार्रवाई की जा रही है। अब अशोकनगर में अन्‍न उत्‍सव कार्य में लापरवाही बरतने पर 4 शिक्षक, ग्वालियर में रिश्वत के आरोप लगने पर सहायक वर्ग-3 के अधिकारी को निलंबित ) कर दिया गया है।

वही देवास जिले में मनरेगा योजना में लापरवाही बरतने पर 8 उपयंत्री और 1 सहायक यंत्री पर भी गाज गिरी है और इनकी सेवाएं समाप्ति के निर्देश दिए गए है।अ शोकनगर कलेक्टर  ने अन्‍न उत्‍सव वितरण कार्यक्रम में नोडल अधिकारी के रूप में नियुक्‍त चार शिक्षको को कार्य मे लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया है। जारी आदेश के अनुसार जयकुमार जैन माध्‍यमिक शिक्षक शासकीय माध्‍यमिक विद्यालय रातीखेड़ा,महेन्‍द्र रघुवंशी शिक्षक शासकीय माध्‍यमिक विद्यालय महुअन,वशी खान प्राथमिक शिक्षक शासकीय प्राथमिक विद्यालय अमरोह तथा संतोष कुमार सोनी शिक्षक (Teacher) शासकीय माध्‍यमिक विद्यालय (School) ढेकन को तत्‍काल प्रभाव से निलंबित (suspended) किया गया है।

इसे भी पढ़ें-  K L Rahul Fitness :चोट से उबर रहे हैं केएल राहुल, जल्द हो सकती है वापसी

ग्वालियर कलेक्टर (Gwalior Collector) कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सहायक वर्ग-3 रविन्द्र सिंह राजपूत को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

निलंबन अवधि में उनका मुख्यालय अनुविभागीय अधिकारी राजस्व ग्वालियर सिटी रहेगा तथा मूलभूत नियम 53 के तहत नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा।ग्वालियर पुलिस अधीक्षक विशेष पुलिस स्थापना लोकायुक्त कार्यालय ग्वालियर द्वारा गत दिनों रविन्द्र राजपूत सहायक ग्रेड-3 के विरूद्ध टीसी एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। अपराध पंजीबद्ध होने के कारण कलेक्टर द्वारा निलंबन की कार्रवाई की गई है।

देवास कलेक्‍टर (Dewas Collector) चंद्रमौली शुक्ला ने मनरेगा योजना में लापरवाही बरतने पर संविदा उपयंत्रियों की सेवाएं समाप्त करने के नोटिस करने के निर्देश दिये। इसके अलावा नियमित श्रेणी के उपयंत्री और सहायक यंत्री की दो वेतन वृद्धि रोकने के नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।

इसे भी पढ़ें-  Home Loan For Police Policy: नेताओं और पुलिस वालों को होम लोन देने से किसी ने मना नहीं किया: वित्त मंत्री

यह कार्रवाई लेबर नियोजन एवं उनके कंवर्जन की प्रगति अत्यंत कम होने, जल संवर्धन के अंतर्गत स्वीकृत खेत, तालाब के कार्य वर्षा पूर्व पूर्ण ना होकर काफी संख्या में तालाब अपूर्ण बने रहने एवं सुदूर संपर्क और खेत सड़को के कार्य अधिक संख्या में अधूरे रहने पर की गई है।

कलेक्‍टर शुक्‍ला ने मनरेगा  कार्य में लापरवाही बरते पर आठ उपयंत्री और एक सहायक यंत्री को संविदा नियुक्ति समाप्ति का नोटिस देने के निर्देश दिये। जिसमें देवास के उपयंत्री प्रवीण वर्मा, भरत झकोरे, सहायक यंत्री नरोत्‍तम शाक्‍य, टोंकखुर्द के उपयंत्री बलविंदर कपूर, सोनकच्‍छ की उपयंत्री भारती टटवाडे, बागली के उपयंत्री आशीष शुक्‍ला, कन्‍नौद के उपयंत्री यशवंत धाकड, स्‍वाती कोटकर और खातेगांव के उपयंत्री अरूण चौहान शामिल है। इसके अलावा दो उपयंत्री और एक सहायक यंत्री की 02 वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश दिये। जिसमें देवास की उपयंत्री सुश्री नेहा शर्मा, बागली की सुश्री टीना झाणिया तथा सोनकच्‍छ के सहायक यंत्री नवीन खत्री शामिल है।

इसे भी पढ़ें-  Notic For Badwani Collector: बड़वानी कलेक्टर के नाम हाई कोर्ट का नोटिस, महिला शिक्षक की याचिका

पंचायत सचिव पर शास्ति अधिरोपित

अनूपपुर अपर कलेक्टर सरोधन सिंह ने समय-सीमा में आवेदक को सेवा प्रदाय ना करने पर जनपद पंचायत जैतहरी अंतर्गत ग्राम पंचायत ठोडीपानी के सचिव महावीर सिंह पर 500 रुपये की शास्ति अधिरोपित की है। आरोप है कि ग्राम पंचायत ठोडीपानी के सचिव ने जन्म का अप्राप्यता प्रमाण पत्र की सेवा समय-सीमा में आवेदक को प्रदाय नहीं की थी।यह कार्रवाई मप्र लोक सेवाओं के प्रदान की गारंटी अधिनियम के तहत की गई है।

 

Advertisements