Hartalika Teej 2021 Date: कब है अखंड सौभाग्य का व्रत हरतालिका तीज? जानें तिथि, पूजा मुहूर्त एवं महत्व

Advertisements

Hartalika Teej 2021 Date: हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, भाद्रपद मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरतालिका तीज व्रत रखा जाता है। अखंड सौभाग्य और सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए महिलाएं हरतालिका तीज व्रत रखती हैं। इस व्रत को सभी व्रतों में कठिन माना जाता है क्योंकि यह निर्जला व्रत होता है। इस व्रत के दौरान पानी भी नहीं पीना होता है। विवाह योग्य युवतियां सुयोग्य वर की कामना से भी हरतालिका तीज का व्रत रखती हैं। हरतालिका तीज व्रत के दिन माता पार्वती, भगवान शिव और गणेश जी की आराधना की जाती है। हरतालिका तीज व्रत उत्तर भारत के कई स्थानों पर रखा जाता है। हरतालिका तीज व्रत के लिए विशेषकर मायके से महिलाओं के लिए नए कपड़े, फल, मिठाई, सुहाग की सामग्री आदि बेटी के घर भेजी जाती है। आइए जानते हैं कि इस वर्ष हरतालिका तीज किस दिन है? पूजा का मुहूर्त क्या है?

इसे भी पढ़ें-  सुषमा, सोनिया से मुलायम तक; अमरिंदर ने फिर फोड़ा फोटो बम, पूछा- क्या इन सबके ISI से संबंध हैं?

हरतालिका तीज 2021 तिथि

भाद्रपद मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि का प्रारंभ 8 सितंबर दिन बुधवार को देर रात 02 बजकर 33 मिनट पर हो रहा है। यह तिथि 09 सितंबर को रात 12 बजकर 18 मिनट पर समाप्त हो रही है। ऐसे में उदया तिथि 09 सितंबर को प्राप्त है, इसलिए हरतालिका तीज का व्रत 09 सितंबर दिन गुरुवार को रखा जाएगा।

हरतालिका तीज 2021 पूजा मुहूर्त

हरतालिका तीज के दिन पूजा के लिए दो मुहूर्त हैं। एक सुबह के समय में और दूसरा प्रदोष काल में सूर्यास्त के बाद।

सुबह का मुहूर्त: हरतालिका तीज की प्रात: पूजा के लिए आपको 02 घंटे 30 मिनट का समय मिलेगा। आप इस दिन प्रात: 06 बजकर 03 मिनट से सुबह 08 बजकर 33 मिनट के मध्य पूजा करना उत्तम है।

इसे भी पढ़ें-  दुष्कर्म का आरोपित बड़नगर विधायक का बेटा करण मोरवाल मक्सी से गिरफ्तार

प्रदोष पूजा मुहूर्त: हरतालिका तीज की प्रदोष पूजा के लिए शाम को 06 बजकर 33 मिनट से रात 08 बजकर 51 मिनट तक मुहूर्त है।

हरतालिका तीज का महत्व

हरतालिका तीज का व्रत करने से पति को लंबी आयु प्राप्त होती है। मनचाहे वर की प्राप्ति के लिए भी यह व्रत रखा जाता है। इस व्रत के पुण्य से संतान वृद्धि भी होती है।

डिस्क्लेमर

”इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना में निहित सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्स माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्म ग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारी आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना के तहत ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।”

Advertisements