Tokyo Paralympics: मध्‍य प्रदेश की प्राची यादव पैरा कैनो के सेमीफाइनल में, भारत की पदक की उम्‍मीद बढ़ी

Advertisements

Tokyo Paralympics: भोपाल।  मध्‍य प्रदेश की प्राची यादव ने टोक्‍यो पैरालंपिक में उम्‍मीद के अनुसार प्रदर्शन करते हुए हीटस में पदक की दावेदार जापान और कोरिया की खिलाडि़यों को पीछे छोड़ते हुए सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्‍की कर ली है। शुक्रवार को सेमीफाइनल और फाइनल आयोजित होंगे। सारे भारत वासियों को उम्‍मीद है, प्राची इसमें बेहतर प्रदर्शन कर देश के लिए जरुर पदक जीते।

पैरा ओलिंपिक में वाटर स्‍पोटर्स में कोटा प्राप्‍त करने वाली प्राची देश की पहली महिला खिलाड़ी है।

गुरुवार को टोक्‍यो में महिलाओं के पैरा कैना की वी-2 कैटेगरी में भारत की प्राची मुकाबले में थी। उनके साथ हीटस में पदक की प्रबल दावेदार जापान और कोरिया की खिलाड़ी साथ में थी। कोच मयंक ठाकुर ने बताया कि प्राची ने उम्‍मीद से बढ़कर प्रदर्शन कर मेजबाज एथलीट को पीछे छोड़ते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। अब सेमीफाइनल व फाइनल में प्राची के लिए मुकाबला थोडा आसान होगा। कोच मयंक ठाकुर ने बताया कि 28 अगस्‍त से आ गए थे। जिस बोट से प्राची अभ्‍यास कर रही थी, उससे वह असहज महसूस कर रही थी। बुधवार को जर्मनी की बोट प्राची को उपलब्‍ध कराई गई थी।

इसे भी पढ़ें-  सरकार का बड़ा कदम: भारत में सीधे फंड भेजने से नौ विदेशी NGOs को रोका, पढ़ें आखिर क्यों लिया गया ये फैसला

ग्‍वालियर की रहन वाली प्राची पिछले चार सालों से राजधानी के छोटे तालाब में कोच मयंक ठाकुर के मार्गदर्शन में प्रशिक्षण प्राप्‍त कर रही है। प्राची ने बताया कि देश के लिए खेलना हर एथलीट का सपना होता है। सेमीफाइनल में पहुंचकर अच्‍छा लगा, लेकिन असली मुकाबला अब है। शुक्रवार को बेहतर प्रदर्शन कर देश के लिए पदक जीतने का प्रयास करूंगी। उल्‍लेखनीय है कि प्राची का उत्‍साह प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी बढ़़ाया है।

Advertisements