Sex Racket : सोशल मीडिया के जरिए आते थे ग्राहक, फोटो दिखाकर होता था रेट तय

Advertisements

पटना। रुपयों की चकाचौंध के बीच देश में जिस्मफरोशी यानि सेक्स रैकेट (Sex Racket) का धंधा खूब फलफूल रहा है। कोई कड़ा कानून नहीं होने के कारण आरोपी जल्दी पुलिस गिरफ्त से छूट जाते हैं और फिर ऐसे लोगों की तलाश में जुट जाते हैं जिन्हें जिस्म की भूख रहती है।

बिहार  की मुजफ्फरपुर पुलिस ने एक ऐसे ही सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। जिसमें जिसमें सोशल मीडिया (Social Media) के जरिये ग्राहकों को लड़कियों के पोर्न वीडियो भेजे जाते थे और फिर उन्हें फंसाया जाता था। खास बात ये है कि ये रैकेट एक महिला अपने पति के साथ मिलकर चलाती थी। पुलिस ने महिला की पहचान कर ली है।

दरअसल पुलिस की गिरफ्त में आये शराब माफिया दीपक और पटना की एक युवती से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि एक महिला और उसका पति मजबूर और गरीब लड़कियों को फंसाती थी। उन्हें रुपयों का लालच देकर उनकी पोर्न वीडियो बनाती थी फिर उन्हें ग्राहकों को भेजकर फंसाया जाता था।  बताया जा रहा है कि ये धंधा मुजफ्फरपुर की सर सैयद कॉलोनी में चलाया जा रहा था।

पुलिस पकड़ में आई युवती एक मॉल में काम करती है।  उसने पुलिस को  किरण और उसका पति दिलीप लड़कियों की खूब खातिरदारी करते हैं, उनको मोटा पैसा देते हैं और फिर पोर्न वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भेजते हैं। फिर लड़कियों की नुमाइश का रुका रेट तय होता था। पुलिस ने जिस्मफरोशी का धंधा चलाने वाली महिला के ठिकानों पर छापेमारी की लेकिन महिला किरण और उसका पति दिलीप फरार हो गए। पुलिस दोनों की तलाश में जुटी है।

Advertisements