Morena News: पूर्व मंत्री के PSO ने सर्विस रिवाल्वर से खुद को मारी गोली, मचा हड़कंप

Advertisements

मुरैना। छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) की SAF की बटालियन में पदस्थ बड़ी लालौर गांव का निवासी 36 वर्षीय विश्वंभर पुत्र रामगोपाल राठाैर लंबे समय से छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री (former minister) ब्रजमोहन अग्रवाल (brajmohan agarwal) के पर्सनल सुरक्षा अधिकारी (PSO) के रूप में पदस्थ था।

विश्वंभर राठौर का शव गुरुवार की सुबह उनके सरकारी आवास में मिला है, उन्हाेंने अपनी सर्विस रिवाल्वर (revolver) से गोली मारकर खुदकुशी की।

ससुराल जनों ने विश्वंभर राठौर के खिलाफ खुदकुशी से एक दिन पहले यानी मंगलवार को ग्वालियर के पड़ाव थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। यह मामला उनके साले की पत्नी ने ही दर्ज कराया है। इसी एफआइआर के बाद विश्वंभर ने खुदकुशी का कदम उठाया था। शव के पास एक सुसाइड नोट भी मिला था, जिसमें अपनी मौत का जिम्मेदार साले रामशंकर राठौर और पत्नी शारदा के अलावा शारदा के पिता महेश राठौर को बताया है।विशंभर राठौर ने सुसाइड नोट में लिखा है साले की पत्नी और उसका पिता ब्लैक मेल करने में लगे हुए है।

इसे भी पढ़ें-  Charging station In Bhopal: फरवरी तक भोपाल में बनेंगे 37 इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन

सभी लोग मिलकर मुझसे 30 लाख रुपए की माँग कर रहे है नहीं तो मुझ पर झूठा केस दर्ज करने की धमकी दे रहे है।मेरी मौत के जिम्मेदार साले के पत्नी और उसका पिता है।इन सब की मदद रामशंकर राठौर कर रहा है।इनके खिलाफ कड़ी से कड़ी सजा मिलना चाहिए।मेरी मौत के बाद जो भी पैसा निकलेगा मेरी बेटी के खाते में डाला जाए और मेरी पत्नी को कुछ भी नही दिया जाए।मेरे मृत शरीर को ससुरालवालों से दूर रखा जाए कोई भी व्यक्ति हाथ न लागये।सुसाइड नोट में विशम्भर ने ससुराल पक्ष पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है।बताया जाता है कि आज सुबह करीब 5 बजे पिस्टल से गोली मारकर खुदकुशी कर ली।

इसे भी पढ़ें-  Sports league Article 370: अनुच्छेद 370 के नाम पर स्पोर्ट्स लीग शुरू करेगी भाजपा, अमित शाह के संसदीय क्षेत्र में होगा आयोजन

जब सुबह आरक्षक कमरे में जगाने गए तो पता चला कि बन्द कमरे में विशम्भर राठौर ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली।विशम्भर राठौर करीब एक माह से अकेले क्वार्टर में रहते थे लेकिन आये दिन पारिवारिक कारणों से परेशान रहता था।इनका शव सुबह कमरे से बरामद किया गया है।मृतक विशम्भर ने मरने से पहले वीडियो और सुसाइड नोट अपने छोटे भाई ध्रुव को मोबाइल पर भेजा था।मौत की सूचना मिलते ही पूरे गांव में गमहीन का माहौल हो गया।परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर अंतिम विदाई दी।फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जाँच में जुटी हुई है।

Advertisements