इसे भी पढ़ें-  Twitter In Action: पराग अग्रवाल के CEO पद संभालते ही एक्शन में ट्विटर, पर्सनल Photos-Videos को लेकर लगाए ये प्रतिबंध

उधर, तालिबान ने सरकार के गठन का काम शुरू कर दिया है। तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद को तालिबान सरकार में संस्कृति एवं सूचना मंत्री बनाया गया है। मुजाहिद ने ही एक दिन पहले मीडिया को संबोधित करते हुए बताया था कि तालिबान की सरकार कैसी होगी। ऐसा पहली बार हुआ, जब मुजाहिद दुनिया के सामने आए। क्योंकि वह दशकों से पर्दे के पीछे छिपकर काम करते रहे थे। उन्होंने इस्लामी कानून के तहत महिलाओं के अधिकारों का सम्मान करने का वादा किया था और विरोधियों को भी आम माफी का ऐलान किया था। माना जा रहा है कि यह सिर्फ विश्व के नेताओं और डरे हुए लोगों को दिखाने का प्रयास है कि तालिबान अब बदल गया है।

मुजाहिद ने कहा कि उनकी किसी से दुश्मनी नहीं है और अपने नेता के आदेश के आधार पर उन्होंने सभी को माफ कर दिया है। हम सभी देशों को भरोसा देते हैं कि हम आपके दूतावास और लोगों की सुरक्षा करेंगे। जबीहुल्ला मुजाहिद ने ये भी भरोसा दिलाया कि हम अपनी मिट्टी का इस्तेमाल किसी दूसरे देश के लिए नहीं होने देंगे। ना ही अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल किसी दूसरे देश के खिलाफ होने देंगे।

इसे भी पढ़ें-  Twitter In Action: पराग अग्रवाल के CEO पद संभालते ही एक्शन में ट्विटर, पर्सनल Photos-Videos को लेकर लगाए ये प्रतिबंध

 

वहीं, अफगानिस्तान में कब्जे के बाद तालिबान का आतंक जारी है। अफगानिस्तान के राष्ट्रीय झंडे को दफ्तरों पर लगाए रखने की मांग की जा रही थी। इस दौरान तालिबानी लड़ाकों ने प्रदर्शनकारियों पर गोलियां बरसाना शुरू कर दिया, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई और 12 लोग घायल हो गए।