Ashraf Ghani बोले- जूते भी नहीं पहन सका, नोट क्या साथ ले जाता, नहीं भागता तो चौराहे पर फांसी टांग दिया जाता

Advertisements

Ashraf Ghani Video: तालिबान के डर से मुल्क छोड़ने के आरोप झेल रहे अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने सफाई दी है। काबुल छोड़ने के बाद से यूएई में शरण लेने को मजबूर हुए Ashraf Ghani ने फेसबुक पर वीडियो शेयर कर सफाई दी है।

उन्होंने कहा, मैं काबुल में रुकता तो कहीं ज्यादा खून खराबा होता। एक राष्ट्रपति को आप चौराहे पर फांसी पर टंगा पाते। वहीं अपने साथ सरकारी खजाना ले जाने के आरोपों पर उन्होंने कहा है कि वे जूते भी नहीं पहन सके, अपने साथ नोटों के बंडल क्या ले जाते। पढ़िए Ashraf Ghani ने वीडियो में और क्या खास कहा

इसे भी पढ़ें-  कटनी जीआरपी की अमानवीय हद, पंचनामा के लिए अस्पताल से स्ट्रेचर पर घसीटते हुए स्टेशन मंगवाई लाश

अशरफ गनी ने ताजिकिस्तान में अफगानिस्तान के राजदूत के दावों का खंडन किया कि उन्होंने देश के खजाने से लाखों डॉलर की चोरी की थी। गनी का यह बयान काबुल में रूसी दूतावास के यह कहने के दो दिन बाद आया है कि गनी चार कारों और नकदी से भरे एक हेलीकॉप्टर के साथ काबुल से रवाना हुए थे। उन्होंने तालिबान आंदोलन के वरिष्ठ सदस्यों हामिद करजई और अब्दुल्ला अब्दुल्ला के बीच वार्ता का समर्थन किया।

 

 

 

Advertisements