पाकिस्तान में मंदिर पर फिर से हमला, मुस्लिमों की भीड़ ने तोड़ी प्रतिमाएं, अब तक नहीं हुई गिरफ्तारी

Advertisements

पाकिस्तान में हिंदुओं की दुर्दशा एक बार फिर दुनिया के सामने आ गई है। यहां पंजाब प्रांत में मुस्लिमों की भीड़ ने हिंदुओं के मंदिर पर हमला कर दिया और वहां मौजूद प्रतिमाओं से भी तोड़फोड़ की। हालात इतने बेकाबू थे कि पुलिस भी मूक दर्शक बनी रही और आखिरकार स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पाकिस्तानी रेंजर्स को बुलाना पड़ा।
पुलिस ने बताया कि मुस्लिमों की भीड़ ने बुधवार को मंदिर पर हमला किया। यह मामला रहीम यार खान जिले के भोंग शहर का है, जो लाहौर से करीब 590 किलोमीटर दूरी पर है। पुलिस के मुताबिक, भीड़ ने कथित तौर पर एक मदरसे के अपमान का बदला लेने के लिए मंदिर में तोड़फोड़ की।

भोंग शहर में दशकों से हिंदू शांतिपूर्वक ढंग से रह रहे हैं। बीते हफ्ते एक आठ वर्षीय हिंदू बच्चे ने कथित तौर पर मदरसे की लाइब्रेरी में पेशाब कर दिया था, जिसके बाद इलाके में तनाव की स्थिति बन गई थी।

इसे भी पढ़ें-  ससुर ने पुत्रवधु की हत्या के लिए दी तीन लाख की सुपारी, मुठभेड़ में तीन शूटर गिरफ्तार

बुधवार को सत्ताधारी पाकिस्तानी तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के सांसद डॉक्टर रमेश कुमार वंकवनी ने अपने ट्विटर अकाउंट से इस हमले का वीडियो ट्वीट कर पुलिस से तुरंत मौके पर पहुंचने को कहा। सिलसिलेवार किए कई ट्वीट में उन्होंने कहा कि भोंग शहर में हिंदू मंदिर पर हमला किया गया। यहां कल से स्थिति काफी तनावपूर्ण है। स्थानीय पुलिस द्वारा की गई लापरवाही शर्मनाक है।

डिस्ट्रिक्ट पुलिस ऑफिसर (DPO) असद सरफराज ने कहा कि पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित कर लिया है और भीड़ को भी तितर-बीतर कर दिया है। रेंजर्स को बुलाया गया और मंदिर के चारों तरफ तैनात किया गया। इस इलाके में करीब 100 हिंदू परिवार रहते हैं और किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए पुलिस बल भी तैनात किए गए हैं। हालांकि, अभी तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है।

Advertisements