शिवराज सरकार का होमगार्ड को लेकर बड़ा फैसला, कैबिनेट में आएंगे प्रस्ताव 

Advertisements

भोपाल। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में शिवराज सरकार (shivraj government) ने बड़ा फैसला लिया है। दरअसल डिजास्टर मैनेजमेंट (disaster management) को लेकर सरकार ने इमरजेंसी रिस्पांस फोर्स (emergency response force) की ताकत को बढ़ाने का फैसला किया है। इसके लिए जल्द होमगार्ड (homeguard) के 2425 पदों को स्टेट डिजास्टर इमरजेंसी रिस्पांस फोर्स (State Disaster Emergency Response Force) में शिफ्ट किया जाएगा। अगली कैबिनेट बैठक (cabinet meeting) में इसके लिए प्रस्ताव लाए जा सकते हैं।

दरअसल आपदा के मद्देनजर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) ने होमगार्ड डीजी को जिलों में डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट के खाली पदों पर कंपनी कमांडर (company commander) को पद का प्रभार देने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा समीक्षा बैठक में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अफसरों को बेहतर प्रबंधन के लिए SOP तैयार करने के भी निर्देश जारी किए हैं।

इसे भी पढ़ें-  Lokayukta Raid: लोकायुक्‍त टीम ने पंचायत समन्वयक अधिकारी ओमप्रकाश राठौर को रिश्‍वत लेते पकड़ा

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि आपदा प्रबंधन की तैयारी को और अधिक पुख्ता करने के लिए SOP तैयार करें। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि SOP तैयार हो जाने के बाद आपदाओं का बेहतर प्रबंधन किया जा सकेगा। इसके अलावा मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आपदा प्रबंधन के लिए होमगार्ड के 2425 पदों को स्टेट डिजास्टर इमरजेंसी रिस्पांस फोर्स मैं सौंपने के लिए प्रस्ताव कैबिनेट में भेजने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने होमगार्ड में अनुसचिवीय बल के युक्तकरण के आदेश जारी करने के भी निर्देश दिए हैं। नरोत्तम मिश्रा ने कहा जिन जिलों में होमगार्ड के डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट के पद रिक्त है। वहां पर कंपनी कमांडर को डिस्ट्रिक्ट कमांडर के पद का प्रभार सौंपे जाने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जाए।

इसे भी पढ़ें-  MP Teachers News: चयनित शिक्षकों की नियुक्ति के लिए हलचल तेज

इसके अलावा गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आपदा प्रबंधन की तैयारी की समीक्षा करते हुए त्वरित सहायता पहुंचाने के लिए होमगार्ड और एसडीईआरएफ के स्टेट कमांडेंट सेंटर की मॉनिटरिंग के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि मानसून को देखते हुए आपदा प्रबंधन की तैयारी में लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Advertisements