Dhar News: धार जिले में समीक्षा बैठक में शिक्षक ने मुख्यमंत्री के बारे में किया अपशब्‍दों का प्रयोग, निलंबन के साथ गिरफ्तार

Advertisements

कुक्षी।  नगर में पांच दिन पहले बीआरसी व जनशिक्षकों की समीक्षा बैठक हुई थी। इसमें एक शिक्षक ने मुख्यमंत्री के बारे में अपशब्दों का इस्तेमाल किया था। स्कूल नहीं खुलने पर भड़कते हुए शिक्षक ने अपशब्‍दों का प्रयोग किया।

इसका वीडियो शनिवार को इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। इसके बाद पुलिस ने मामला संज्ञान में लेते हुए शनिवार देर रात करीब 11:30 बजे प्रकरण दर्ज कर शिक्षक को गिरफ्तार किया है। जबकि जनजाति कार्य विभाग के सहायक आयुक्त ने शिक्षक को निलंबित कर दिया है।

20 जुलाई को कुक्षी के कन्या विद्यालय के सभा गृह में जन शिक्षा केंद्र कुक्षी के शिक्षकों की शासकीय कार्यों की समीक्षा बैठक रखी गई थी। इसमें बीआरसी, जनशिक्षक और समस्त संकुल के शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित थे। इस दौरान ग्राम रोजा के माध्यमिक शिक्षक गोविंद अलावा स्कूलों के बंद रहने से इतना नाराज हुए कि सबके बीच स्कूल खोलने की बात करते हुए मुख्यमंत्री को अपशब्द कहने लगे। उन्होंने महापुरुषों को लेकर भी अशोभनीय टिप्पणी की। इसका वीडियो शनिवार को इंटरनेट मीडिया पर दिनभर वायरल हुआ। उक्त वीडियो में भाजपा नेताओं ने शिक्षक पर कार्रवाई की मांग की थी।

इसे भी पढ़ें-  सुषमा, सोनिया से मुलायम तक; अमरिंदर ने फिर फोड़ा फोटो बम, पूछा- क्या इन सबके ISI से संबंध हैं?

शिक्षक को किया निलंबित

वायरल वीडियो के मामले को संज्ञान में लेते हुए एसडीएम कुक्षी के पत्र एवं विकासखंड शिक्षा अधिकारी कुक्षी के प्रतिवेदन पर माध्यमिक विद्यालय रोजा के शिक्षक गोविंद सिंह अलावा को असंसदीय भाषा का प्रयोग करने, अभद्र व्यवहार, गालीगलौज करने तथा शासकीय कार्य में बाधा डालकर बैठक में व्यवधान उत्पन्न करने पर जनजाति कार्य विभाग जिला धार के सहायक आयुक्त ने निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में शिक्षक को विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय नालछा नियत किया गया है।

 

शनिवार देर रात प्रकरण दर्ज कर किया गिरफ्तार

थाना प्रभारी कमल गेहलोत ने बताया कि विकासखंड स्त्रोत समन्वयक राजेशसिंह जमरा की रिपोर्ट पर पुलिस ने देर रात शिक्षक गोविंद अलावा के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है। शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है। न्यायालय में पेश किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें-  7th Pay Commission: दिवाली से पहले सरकार का बड़ा फैसला, 1 जुलाई से केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा 31 फीसदी महंगाई भत्ता

 

 

 

 

Advertisements