एक्शन में कलेक्टर: 9 शिक्षक निलंबित, पटवारी और RI को नोटिस 

Advertisements

श्योपुर। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के श्योपुर जिले में कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव (Sheopur Collector Rakesh Kumar Srivastava) ने बड़ी कार्रवाई की है।अचानक निरीक्षक पर पहुंचे श्योपुर कलेक्टर ने छात्रावास अधीक्षक सहित 9 शिक्षकों (Teachers) को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया है।वही अनुपस्थित अधिकारियो और कर्मचारियों को 1 वेतन वृद्धि रोकने का कारण बताओ सूचना नोटिस के साथ आधे दिन का आकस्मिक अवकाश काटे जाने के निर्देश ADM को दिए।

दरअसल, शुक्रवार को श्योपुर कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव, जिला पंचायत सीईओ (CEO0 राजेश शुक्ल के साथ  कराहल क्षेत्र के विभिन्ना गांवों में सरकारी योजनाओं का हाल जानने पहुंचे थे । निरीक्षण के दौरान स्कूल (School) में शिक्षक और छात्रावासों में अधीक्षक अनुपस्थित मिलने पर 9 लोगों को निलंबित करने के निर्देश दिए।वही सरकारी स्कूल, छात्रावासों, आंगनबाड़ी केंद्र और उचित मूल्य की दुकानों को भी चेक किया।

इसे भी पढ़ें-  Corona vaccination: बुजुर्गों और दिव्यांगों के आने-जाने की व्यवस्था सरकार करेगी: मुख्यमंत्री

सबसे पहले श्योपुर कलेक्टर ने बाघ चकराना के प्राथमिक स्कूल बंद मिलने औस अनुपस्थित रहने पर शिक्षक राघवेंद्र तोमर और राजेश शर्मा को निलंबित कर दिया। इसके बाद ग्राम हथेड़ी के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका पुष्पा धाकड़ और अनुपमा जैन को भी अनुपस्थित मिलने पर निलंबित किया गया है। वही कलेक्टर को ग्राम टिकटोली के प्राथमिक विद्यालय के निरीक्षण के दौरान एक मात्र शिक्षक मिला, जबकि  मुन्नीलाल बाड़ेकर और नारायण सिंह को स्कूल के रजिस्टर में हस्ताक्षर करने के बाद गायब होने पर नोटिस जारी किया गया है।

इसके अलावा शासकीय माध्यमिक विद्यालय (Government School) में शिक्षक ध्रुव सिंह तोमर के अनुपस्थित मिलने पर उन्हें निलंबित कर दिया गया। मोरावन में शिक्षक शाला बंद होने पर शिक्षक शिवराज आदिवासी और लखन आदिवासी को निलंबित और आंगनबाड़ी केंद्र पर भोजन की गुणवत्ता ठीक नहीं होने पर संबंधित स्वसहायता समूह को नोटिस जारी किया गया है।

इसे भी पढ़ें-  Bina News: गढ़ा धन पाने की लालसा में हजारों वर्ष पुरानी मढ़िया को कर दिया जमींदोज

मोरावन के बालिका छात्रावास के निरीक्षण के दौरान अधीक्षिका मधुबाला अनुपस्थित पाई गईं। पूछने पर पता चला कि अधीक्षिका आश्रम में नहीं आती हैं। जिस पर उन्हें निलंबित कर दिया गया। इसके साथ ही सहायक अध्यापक जितेंद्र सिंह तोमर के साथ महिला चौकीदार रामवती, किंतीबाई, रसोईया जसोदाबाई और स्वीपर रचना बाई के अनुपस्थित होने पर उन्हें निलंबित किया गया। नसीहर में सेक्टर सुपरवाइजर के द्वारा नियमित भ्रमण नहीं करने पर उन्हें भी नोटिस जारी किया गया है।

ग्राम टिकटोली और मोरावन में किसान का फोती नामांतरण नहीं करने पर संबंधित पटवारी और आरआई को नोटिस जारी किया गया। बाघ चकराना में आंगनबाड़ी केंद्र पर भोजन व्यवस्था सही नहीं मिलने पर स्वसहायता समूह को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। टिकटोली और मोरावन में शासकीय उचित मूल्य की दुकान बंद मिलने पर SDM को दुकान को निलंबित करने के निर्देश दिए।

इसे भी पढ़ें-  मंडीदीप नपा में पीएम आवास योजना को लेकर जमकर चल रही घूसखोरी, लोकायुक्‍त कार्रवाई से हुआ खुलासा

Advertisements