इसे भी पढ़ें-  Narottam Mishra: मप्र के गृह मंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा ने कहा - कांग्रेस सिर्फ ट्वीट तक सिमटकर रह गई

उन्होंने सभी प्रभारी मंत्रियों को निर्देश दिए कि भीड़ भरे आयोजन नहीं किए जाएं। कहा कि कोविड अनुकूल व्यवहार के पालन में बुरहानपुर में आयोजित कार्यक्रम प्रशंसनीय है। प्रदेश की सभी औद्योगिक इकाइयां अपने यहां कार्यरत कर्मचारियों, मजदूरों का शत-प्रतिशत टीकाकरण निजी अस्पतालों में सुनिश्चित कराएं। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए प्रदेश में जारी तैयारियों पर केंद्रित इस बैठक में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति, टीकाकरण अभियान, अस्पतालों में संसाधनों को लेकर जारी तैयारी, ऑक्सीजन आपूर्ति आदि पर प्रस्तुतीकरण भी दिया गया।

केरल और महाराष्ट्र पर रखें नजर

मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिक संक्रमण वाले देशों के साथ-साथ केरल और महाराष्ट्र जैसे राज्यों पर नजर रखी जाए। प्रदेश में संभाग व सुदूरवर्ती जिलों में कोरोना जांच के लिए लैब विकसित की जाएं। अस्पतालों में सभी आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित करने के साथ 30 सितंबर तक सभी ऑक्सीजन प्लांट आरंभ किए जाएं। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में कोरोना के प्रकरण मात्र 12 और सक्रिय केस 202 हैं। राष्ट्रीय स्तर पर मध्य प्रदेश 32वें नंबर पर है। प्रदेश का रिकवरी रेट 98.6 प्रतिशत है, जबकि राष्ट्रीय दर 97.3 प्रतिशत है। बैठक में जानकारी दी गई कि सितंबर-अक्टूबर में तीसरी लहर की आशंका है।

इसे भी पढ़ें-  Exam Start New Pattern In MP: मध्य प्रदेश में बोर्ड के बदले पैटर्न पर शुरू हुई नौवीं से बारहवीं की छमाही परीक्षाएं

इसके लिए ऑक्सीजन बेड की क्षमता बढ़ाई जा रही है। यह भी जानकारी दी गई कि प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयु समूह के एक करोड़ 14 लाख 74 हजार 334 व्यक्तियों का टीकाकरण हो चुका है। बैठक में बताया गया कि ऑक्सीजन के लिए 186 पीएसए प्लांट्स स्थापित किए जा रहे हैं।

इनमें से 34 ने कार्य करना आरंभ कर दिया है। शेष 152 प्लांट 30 सितंबर तक आरंभ हो जाएंगे। इससे 229 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की क्षमता प्राप्त होगी। प्रदेश में मई 2021 में एक हजार 20 स्टाफ नर्स को नियुक्ति दी गई। 148 रेडियोग्राफर, 248 लैब टेक्निशियन को भी नियुक्त किया गया। बैठक में सभी जिलों के प्रभारी मंत्री तथा प्रभारी अधिकारियों ने ऑनलाइन सहभागिता की।

इसे भी पढ़ें-  Charas : मुंह में चरस छुपाकर जेल में ले जाते 3 प्रहरी पकड़ में आए, तीनों निलंबित