नए वर्ष में कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलने भाजपा की दो दिनों तक मैराथन बैठकें

Advertisements

कटनी। नये वर्ष के आगाज के साथ ही राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई हैं। खास तौर पर सत्ता पक्ष इसे लेकर काफी सक्रिय नजर आने लगा है। उदाहरण है आज से भाजपा की दो दिन तक चलने वालीं मेराथन बैठकें। यह बैठक प्रदेश सह संगठन महामंत्री अतुल राय लेंगे। इस दौरान श्री राय कार्यकर्ताओं की नब्ज तो टटोलेंगे ही साथ ही जिले में भाजपा नेताओं की गतिविधियों तथा और चारों विधानसभाओं में जीत की संभावनाएं भी टटोलेंगे। देखा जाए तो अतुल राय की छवि काफी तेज तर्रार और तुरंत निर्णय लेने वाले संगठन मंत्रियों में होती है।

प्रदेश सहसंगठन महामंत्री अतुल राय लेंगे बैठकें, विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियों का आगाज

भाजपा के सूत्र तो यह भी बताते हैं कि श्री राय की नजर प्रत्येक गतिविधियों पर बारीकी से होती है। हालांकि जिले की चार में से तीन विधानसभा सीटों में भाजपा काबिज है लिहाजा फिलहाल उसका पूरा ध्यान चौथे अर्थात बहोरीबंद विधानसभा क्षेत्र में लगा है। यहां जीत की संभावना वाले व्यक्ति की तलाश पार्टी ने पहले ही शुरू कर दी है।

भाजपाइयों के लिए आज और कल का दिन बेहद महत्वपूर्ण
भारतीय जनता पार्टी के लिहाज से अगले दो दिन काफी महत्वपूर्ण है। प्रदेश सह संगठन महामंत्री इस दौरान जिले की भाजपा की टोह लेने आ रहे हैं इस दौरान पहले जिला पदाधिकारियों तथा सभी प्रकोष्ट, सेल, मोर्चा के जिला संयोजकों की बैठक को वह संबोधित करते हुए अपना मार्गदर्शन देंगे। इधर सूत्रों की मानें तो संगठन महामंत्री का कटनी में अचानक दौरा तय हुआ जिसके बाद कहीं न कहीं जिले की चारों विधानसभाओं में भाजपा की रणनीति पर चर्चा होना लाजिमी है। आज कटनी और विजयराघवगढ़ विधानसभाओं की मेराथन मीटिंग के साथ पार्टी की चुनावी रणनीति को अमली जामा पहनाने की शुरूआत हो जाएगी। जबकि कल बड़वारा और बहोरीबंद पर चर्चा होगी। माना जा रहा है कि पार्टी पदाधिकारियों से एक साथ मिलने के साथ ही श्री राय किसी भी कार्यकर्ता अथवा पदाधिकारी से वन टू वन बात भी कर सकते हैं। साफ है आज और कल भाजपा के लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाले हैं।
दावेदारों की लंबी फेहरीश्त पर मंथन
प्रदेश सह संगठन महामंत्री अतुल राय जिले की चारों विधानसभाओं में प्रत्याशियों की लंबी फेहरीश्त पर नजर रखे हुए हैं। विशेष तौर पर कटनी मुड़वारा विधानसभा में। इस कतार पर उनकी खास नजर है। आज और कल की बैठक के बाद काफी हद तक वह यह समझने की कोशिश करेंगे कि कटनी मुड़वारा सहित अन्य विधानसभाओं में पार्टी के लिए जिताउ केंडिडेट कौन हो सकता है। हालांकि निर्णय प्रदेश और राष्ट्रीय नेतृत्व को ही लेना है लेकिन प्रदेश संगठन महामंत्री का इसमें प्रमुख रोल होगा। वैसे भाजपा में संगठन मंत्री की बैठक का काफी महत्व होता है और इसे लेकर पूरा जिला भाजपा संगठन पहले से ही काफी तैयारी करता है।

माना जाता है कि संगठन महामंत्री किसी भी मसले पर जिला संगठन से जवाब मांग सकते हैं। संगठन मंत्री की इस बैठक को लेकर जिला संगठन पिछले दो दिनों से काफी सक्रिय दिखा है। गौरतलब यह भी है कि ऐसी बैठकों में केवल अपेक्षित ही आमंत्रित होते हैं। जिला संगठन की ओर से सभी अपेक्षित पदाधिकारी अथवा मोर्चा प्रकोष्ठों के प्रमुखों को इसकी सूचना दे दी गई है। दोपहर बाद जिला कार्यालय में शुरू होने वाली यह बैठक लम्बी चल सकती है।

Advertisements