केक में ड्रग्स है! NCB ने साइकोलॉजिस्ट और ड्रग्स पेडलर को पकड़ा, सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर ग्राहकों को बेचने का आरोप

Advertisements

महाराष्ट्र में ड्रग्स के काले कारोबार पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। इस कार्रवाई से बचने के लिए ड्रग्स के कारोबारी तरह-तरह के पैंतरे आजमा रहे हैं।

अब इस बात का खुलासा हुआ है कि कुछ कारोबारी केक में यह नशीला पदार्थ मिला कर बेच रहे हैं ताकि वो कानून की नजर से बचे रह सकें।

दक्षिण मुंबई के एक प्रसिद्ध अस्पताल में काम करने वाले एक मनोचिकित्सक के घर पर नारोकिटक्स नियंत्रण ब्यूरो की छापेमारी के दौरान कथित तौर पर 10 किलोग्राम हशीश से भरा ब्राउनी केक और बड़ी मात्रा में अफीम जब्त की गई। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

इसे भी पढ़ें-  जिम में एंट्री से पहले होगा अंडरवियर और स्मेल टेस्ट, चंडीगढ़ के क्लब का अजीब नोटिस वायरल

 

उन्होंने बताया कि मझगांव में परामर्शी मनोचिकित्सक रहमीन छड़ानिया के घर पर सोमवार को छापेमारी में ‘हैश ब्राउनी’ नाम से बेचे जा रहे केक को जब्त किया गया, साथ ही 320 ग्राम अफीम और 1.72 लाख रुपये नकद भी बरामद किए गए। एनसीबी के अधिकारी ने बताया, “छड़ानिया चरस, हशीश और अफीम के मिश्रण वाले ऐसे केक बना रहा था। वह शहर में पार्टियों की मेजबानी करने वाले हाई-प्रोफाइल ग्राहकों को इसकी आपूर्ति कर रहा था। छड़ानिया की पूछताछ के बाद रमजान शेख की गिरफ्तारी हुई, जिससे वह चरस और हशीश खरीदता था। शेख को सोमवार देर रात क्रॉफर्ड मार्केट से 50 ग्राम हशीश के साथ पकड़ा गया। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि ड्रग्स वाले ये केक सोशल मीडिया के जरिए हाई प्रोफाइल ग्राहकों को बेचा जा रहा था।

इसे भी पढ़ें-  'ठीक से देख लेंगे'...अभिषेक बनर्जी के काफिले पर हमले के बाद टीएमसी विधायक की धमकी; BJP ने उठाई कार्रवाई की मांग

उन्होंने बताया कि दोनों पर नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटांसेस एक्ट के तहत आरोप लगाए गए हैं। एक अन्य अभियान में, चुकउ एमेका ओगबोमा उर्फ ​​माइकल के रूप में पहचाने गए एक नाइजीरियाई नागरिक को पड़ोसी पालघर जिले के नालासोपारा से कोकीन के साथ पकड़ा गया। अधिकारी ने बताया, “वह नाइजीरिया में स्थित एक गिरोह के निर्देश पर यहां ड्रग्स पहुंचा रहा था। जब्त की गई नशीली दवा पेरू, चिली और ब्राजील से मंगवाई गई एक खेप का हिस्सा है। इस गिरोह में शामिल और लोगों को गिरफ्तार करने और विदेश से संचालित होने वाली गिरोह का भंडाफोड़ करने के लिए छानबीन जारी है।”

इसे भी पढ़ें-  Mndla News: मंडला जिले में फसलों को नुकसान पहुंचा रहे शंख और घोंघे

 

 

 

Advertisements