हनीट्रैप गैंग की महिलाओं के सैकड़ों अकाउंट सोशल मीडिया पर एक्टिव, ऐसे फंसाती हैं शिकार

Advertisements

हनीट्रैप में फंसाकर लोगों से ठगी करने के आरोपी सोशल मीडिया पर भी सक्रिय हैं। सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर उनके सैकड़ों अकाउंट हैं।

इन अकाउंट के जरिये गिरोह में शामिल युवतियां अश्लील फोटो और वीडियो पोस्ट कर लोगों को अपने झांसे में लेती हैं।

फिर पीड़ितों को ब्लैकमेल किया जाता है। पिछले दिनों नोएडा में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं।

दरअसल, हनीट्रैप में फंसाने वाले गिरोह में कई युवतियां भी शामिल रहती हैं। गिरोह में शामिल युवतियां सोशल मीडिया के जरिए लोगों से दोस्ती करती हैं।

इसके बाद वह लोगों को अपने जाल में फंसा कर फ्लैट पर मिलने के लिए बुलाती हैं या फिर न्यूड वीडियो कॉल करने के लिए कहती हैं। जैसे ही पीड़ित कॉल करता है तो उसकी वीडियो रिकॉर्ड कर लेती हैं।

इसे भी पढ़ें-  Himachal Pradesh News: छितकुल में ट्रेकिंग पर गए 8 पर्यटकों समेत 11 लोग लापता, मौसम खराब होने के बाद संपर्क टूटा; ITBP ढूंढ रही

इसके अलावा ये युवतियां दुष्कर्म के झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देकर पीड़ितों से मोटी रकम वसूलती हैं। नोएडा में ऐसे 20 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। पुलिस ऐसे अकाउंट की गतिविधियों पर नजर रख रही है।

ऐसे चलता है नेटवर्क

आरोपी बिहार और झारखंड में बैठकर ब्लैकमेलिंग करते हैं। ये वॉट्सऐप और फेसबुक पर युवतियों की फोटो लगाकर प्रभावशाली लोगों को फंसाते हैं।

उनसे अश्लील चैट कर उनकी अश्लील वीडियो बना लेते हैं।

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर आरोपी मोटी रकम वसूलते थे। यह धंधा ऑनलाइन चलता है।

 

रुपये नहीं देने पर बदनाम करने की धमकी

इसे भी पढ़ें-  शिवपुरी में तेल की नदी बही तो ग्रामीण बर्तन भर-भर लेकर गए

गिरोह में शामिल युवती और युवक हनीट्रैप में फंसे लोगों से लाखों रुपये की मांग करते है। यदि कोई रुपये देने से इनकार करता है तो उसकी अश्लील फोटो और वीडियो उसके परिवार के लोगों को भेजने या फिर उन्हें वायरल करने की धमकी देते हैं। ऐसे में पीड़ित बदनामी के डर से आरोपियों को रुपये दे देते हैं। इसके बाद आरोपी लगातार पीड़ित के साथ ठगी करते हैं।

पहले भी हुई हैं घटनाएं 

सितंबर 2020 : कारोबारी को हनीट्रैप में फंसाकर लूट के मामले में सोनू पंजाबन के भाई समेत दो गिरफ्तार
फरवरी 2020 : अश्लील वीडियो बनाकर हनीट्रैप में फंसाने वाली दो महिलाओं समेत तीन आरोपियों को कोतवाली सेक्टर-39 पुलिस ने किया गिरफ्तार
जून 2019 : चौकी प्रभारी के संरक्षण में चल रहे हनीट्रैप नेटवर्क का खुलासा, पुलिसकर्मी समेत अन्य आरोपी गिरफ्तार
अप्रैल 2019 : वॉट्सऐप के जरिए संपर्क कर हनीट्रैप में फंसाने वाले पीएसी सिपाही समेत चार आरोपी कोतवाली दादरी क्षेत्र से गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें-  यूपी में बड़ा हादसा: लखीमपुर खीरी में घाघरा नदी में पलटी नाव, 10 लोग बहकर टापू पर फंसे

 

 

 

 

Advertisements