पंजाब में कृषि कानूनों के विरोध के बीच बीजेपी का बड़ा ऐलान, सभी 117 सीटों पर चुनाव लड़ेगी पार्टी

Advertisements

भारतीय जनता पार्टी के संगठन महासचिव बीएल संतोष ने कहा है कि पार्टी प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में राज्य की सभी 117 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और राज्य में सरकार का गठन करेगी।

प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के आलोक में भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई के साथ बैठक करने यहां पहुंचे संतोष ने यह घोषणा की।

पंजाब में इससे पहले बीजेपी अकाली दल के साथ मिलकर चुनाव लड़ती रही है, लेकिन राज्य में केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध को देखते हुए अकाली दल साथ छोड़ दिया।

अकाली दल ने अब बीएसपी के साथ गठबंधन किया है तो आम आदमी पार्टी (आप) भी कांग्रेस से सत्ता छीनने की कोशिश में जुटी है।

इसे भी पढ़ें-  Covid-19 Caller Tune Changed: 100 करोड़ डोज का रिकॉर्ड बनते ही बदल गई कॉलर ट्यून अभी कॉल करके चेक करें

संगठन महासचिव ने पार्टी के राज्य नेताओं और अन्य के साथ भी बैठक की और प्रदेश की राजनीति पर चर्चा हुई। पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए संतोष ने कहा कि देश में भाजपा की लहर है और पंजाब की जनता राज्य में भी भाजपा की सरकार बनाने की इच्छुक है।

संतोष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी प्रदेश में सभी 117 सीटों पर विधानसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी और लोगों के सहयोग से 2022 में होने वाला विधानसभा चुनाव जीतेगी।

बीएल संतोष ने कहा कि पूरा विपक्ष कोई चाल चलकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सत्ता से हटाने का प्रयास कर रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है। संगठन महासचिव ने कहा कि कृषि कानूनों के खिलाफ विपक्ष का गलत प्रचार जल्दी ही खत्म हो जाएगा क्योंकि किसानों को यह महसूस हो गया है कि इन कानूनों से समृद्धि आएगी।

इसे भी पढ़ें-  तरनतारन के पट्टी में पुरानी इमारत से मिले तोप के दो गोले, पुलिस ने कब्जे में लेकर जांच की शुरू

मुख्य रूप से पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली सीमा पर धरना दे रहे हैं और इन्हें वापस लिए जाने की मांग कर रहे हैं। संतोष ने कहा कि मोदी हमेशा से किसानों के समर्थक रहे हैं और कृषि क्षेत्र का हित उनकी और उनकी सरकार की प्राथमिकता में है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने के लिये कई कदम उठाए हैं। बीएस संतोष के साथ पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव दुष्यंत गौतम, पंजाब के भाजपा अध्यक्ष अश्विनी शर्मा एवं अन्य नेता मौजूद थे।

 

Advertisements