चावल के मांड से बढ़ाएं कम समय में सेहत और खूबसूरती दोनों एक साथ

Advertisements

चावल का मांड, अगर मांड शब्द पहली बार सुन रहे हैं तो बता दें कि ये चावल का पानी होता है। पहले के समय में लोग जिस तरह से चावल पकाते थे उसमें मांड निकलता था। कैसे निकलता था इसके बारे में आगे बात करेंगे अभी आपके लिए ये जानना ज्यादा जरूरी है कि मांड पीना हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। सिर्फ सेहत ही नहीं चेहरे और बालों के लिए भी लाजवाब है मांड का इस्तेमाल। तो आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से।

मांड से होने वाले सेहत के फायदे

वायरल फीवर में

बुखार में काढ़े की तरह ही फायदा पहुंचाता है चावल का मांड। गरमा-गरम मांड में हल्का सा नमक मिलाकर पी लें। बहुत आराम मिलता है साथ ही शरीर के लिए जरूरी न्यूट्रिशन भी।

इम्यूनिटी बढ़ाने में

कमजोर इम्यूनिटी के चलते बॉडी बीमारियों का शिकार होने लगती है तो ऐसे में अगर जूस, फ्रूट नहीं खा सकते तो मांड का सेवन करना शुरू करें। ये बहुत ही असरदार ड्रिंक है।

एनर्जी बूस्टर

विटामिन बी, सी और ई से भरपूर मांड एनर्जी बढ़ाने और उसे बरकरार रखने में भी बेहद फायदेमंद होता है। तो दिन में एक बार इसे जरूरी पिएं।

हाजमा रहता है दुरुस्त

सही डाइजेशन कई सारे रोगों की संभावनाओं को कम कर देता है तो इसे दुरुस्त रखने के लिए भी मांड का सेवन करें। इसमें फाइबर की अच्छी-खासी मात्रा मौजूद होती है और इससे ही मेटाबॉलिज्म सुधरता है और पेट साफ रहता है।

मांड से होने वाले स्किन और बालों के फायदे

बुढ़ापे के असर को करता है कम

बढ़ती उम्र के साथ चेहरे पर कई तरह के बदलाव नजर आने लगते हैं। झुर्रियों से खूबसूरती डल होने लगती है। ऐसे में मांड से चेहेर की मसाज करके काफी हद तक झुर्रियों का प्रभाव कम किया जा सकता है।

हेल्दी बालों के लिए

बालों को हेल्दी बनाए रखने के लिए ऑयलिगं और शैंपू के साथ इस एक होम रेमेडी को भी अपने रूटीन में शामिल करें। मांड को बालों में अच्छी तरह से लगाकर 20-30 मिनट तक रखें फिर शैंपू कर लें। इससे बाल घने, मुलायम व चमकदार बनते हैं।मांड बनाने की विधि

  • इसके लिए चावल को कुकर में नहीं बल्कि भगौने या ऐसे ही किसी गहरे बर्तन में बनाएंगे।

  • चावल को पकाने के लिए जितने पानी की जरूरत होती है उससे कम से कम 4 से 5 ग्लास या कटोरी ज्यादा पानी डालेंगे।

  • पानी को गैस पर उबलने दें फिर इसमें कच्चे चावल डालें। चम्मच से चावल को बीच-बीच में चलाते हुए पूरी तरह पका लेंगे।

  • अब भगौने पर ढक्कन लगाकर एक्स्ट्रा पानी को किसी दूसरे बर्तन में निकाल लें। हल्का ठंडा हो जाने दें।

  • ये है मांड और इसका अलग-अलग तरीकों से कर सकते हैं इस्तेमाल।

Advertisements