हर्षवर्धन के इस्तीफे पर कांग्रेस ने जताई तीखी प्रतिक्रिया, कहा- कोरोना से निपटने में मोदी सरकार रही विफल

Advertisements

नई दिल्ली। कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्रिपरिषद से स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के इस्तीफा देने के बाद बुधवार को आरोप लगाया कि कोरोना महामारी से निपटने में विफलता के लिए उन्हें बलि का बकरा बनाया गया है।

विपक्षी दल ने यह सवाल भी किया कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वास्थ्य मंत्री का इस्तीफा लेकर अपना पल्ला झाड़ लेंगे।

चिदंबरम ने कहा- मोदी सरकार कोरोना महामारी से निपटने में विफल रही

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने ट्वीट किया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और स्वास्थ्य राज्य मंत्री (अश्विनी चौबे) का इस्तीफा इस बात की ठोस स्वीकारोक्ति है कि मोदी सरकार कोरोना महामारी से निपटने में पूरी तरह विफल रही।

इसे भी पढ़ें-  Shehnaaz Gill ने डब्बू रत्नानी के लिए किया 'हॉट' फोटोशूट, फैंस ने कहा, 'ब्यूटीफुल एंड स्ट्रांग गर्ल'

चिदंबरम ने कहा- इस्तीफे मंत्रियों के लिए सबक हैं

उन्होंने दावा किया कि ये इस्तीफे मंत्रियों के लिए एक सबक हैं। अगर चीजें अच्छी होंगी तो श्रेय प्रधानमंत्री को जाएगा, लेकिन अगर चीजें खराब हो जाती हैं तो फिर मंत्री पर गाज गिरेगी। जी हुजूरी और चापलूसी की कीमत चुकानी पड़ती है।

 

सुरजेवाला ने कहा- पीएम मोदी इस्तीफा देंगे या स्वास्थ्य मंत्री को बलि का बकरा बनाकर पल्ला झाड़ लेंगे

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सवाल किया कि जिस महामारी का प्रबंधन नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथारिटी के माध्यम से किया जा रहा है, उसके प्रमुख प्रधानमंत्री स्वयं हैं। क्या वे भी अपने गैर जिम्मेदाराना व्यवहार की जिम्मेदारी लेंगे। इस्तीफा देंगे या अकेले स्वास्थ्य मंत्री को बलि का बकरा बना अपना पल्ला झाड़ लेंगे।

इसे भी पढ़ें-  नया वैरिएंट कोरोना का : ICMR के विशेषज्ञ बोले- नए स्ट्रेन से घबराएं नहीं, अभी और भी आते रहेंगे वायरस म्यूटेशन

 

 

 

Advertisements